05/12/2019    केजरीवाल विकास की जगह नफरत की बात करते हैं - मनोज तिवारी
नई दिल्ली, 5 दिसंबर। दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी की अध्यक्षता में आज नजफगढ़ में दिल्ली की 1731 अनधिकृत कॉलोनियों के 40 लाख से अधिक लोगों का मालिकाना हक देने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देने के लिए एक विशाल जनसभा का आयोजन किया गया।

इस जनसभा को प्रदेश अध्यक्ष  मनोज तिवारी, सांसद प्रवेश साहिब सिंह सहित भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने संबोधित किया। इस अवसर पर पूर्व विधायक अजीत खड़खड़ी, ¬प्रदेश मीडिया सह-प्रभारी नीलकांत बख्शी, अनिल डागर,  राकेश अग्रवाल,  नवीन कटारिया,  प्रेम मोती डागर,  करतार यादव, रमेश चैधरी, अमित खरखड़ी सहित जिला-मंडल के पदाधिकारियों, निगम पार्षदों एवं हजारों की संख्या में स्थानीय लोगों ने भाग लिया।

    जनसभा को संबोधित करते हुए  मनोज तिवारी ने कहा कि मुझे यह बताते हुए बहुत खुशी हो रही है कि कल ही संसद में अनधिकृत कॉलोनी निवासी संपत्ति अधिकार मान्यता विधेयक पास किया गया। आजतक पूर्ववर्ती सरकारें केवल घोषणाएं करती रही, संसद में इसके लिए कानून लाने की प्रकिया कभी शुरू नहीं की, लेकिन मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के 100 दिनों के अंदर ही अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने का फैसला लिया। इन कॉलोनियों में रहने वाले लोगों को अब विकास योजनाओं के सभी लाभ मिल सकेंगे जिनसे अब तक वो वंचित थे। पिछले 11 साल में इन कॉलोनियों के डिजिटल मैपिंग का काम हो जाना चाहिए था लेकिन इसकी ओर ना तो कांग्रेस की सरकार ने ध्यान दिया और ना ही आप की सरकार ने, काम करने की बजाए पिछली सरकारें जनता से बस खोखले वादे करती रही, लेकिन भाजपा की सरकार ने इस काम को 31 दिसंबर तक पूरा करने का फैसला किया है।

    तिवारी ने कहा कि इन कॉलोनियों में रहने वाले लोगों को हमेशा अपना घर छिन जाने का डर रहता था, लेकिन भाजपा सरकार ने इन लोगों का ये डर दूर करते हुए मालिकाना हक दे दिया, साथ ही इन कॉलोनियों की रजिस्ट्री न्यूनतम दर पर की जाएगी। अगर केजरीवाल सरकार चाहती तो ये काम पहले हो सकता था लेकिन दिल्ली सरकार को दलगत राजनीति से फूर्सत नहीं मिली। ये केजरीवाल सरकार की अनदेखी का ही नतीजा है कि लोगों को अपने घरों के मालिकाना हक के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा जिसका उचित जबाव जनता आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को जिता कर देगी।

   तिवारी ने कहा कि मोदी सरकार ने अनधिकृत कालोनियों से अनधिकृत का दाग मिटा दिया। दम घोंटू हवा, जानलेवा पानी, दिल्ली की है यही कहानी। आज दिल्ली की पहचान इसी रूप में होने लगी है जिसके जिम्मेदार पूरी तरह से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैं। दिल्ली के छोटे-छोटे बच्चे आज मास्क लगाकर स्कूल जाने को मजबूर हैं, लेकिन केजरीवाल साफ पानी और हवा देने की बजाय नफरत की बातें करते हैं। केजरीवाल ने मेरे स्वर्गीय पिताजी को गाली दी तो मैंने कहा कि मुझे जितनी गाली देनी है दे लो, लेकिन परप्रान्त से दिल्ली में आये लोगों को गाली मत दो क्योंकि दिल्ली के लोगों ने बाहर से आये लोगों को बसाया है और आज उनका दिल्ली के विकास में योगदान है। उन्होंने कहा कि मुझे आज जो पगड़ी पहनाई गई है उसकी लाज रखूंगा। दिल्ली में भाजपा की सरकार बनने के बाद साढे़ तीन साल में हर घर में साफ पानी एवं 1 साल में दिल्ली की 70 प्रतिशत हवा साफ कर देंगे, यह हमारा संकल्प है।

    सांसद प्रवेश वर्मा ने कहा कि जो भी वादा मोदी जी ने जनता से किया उसे पूरा किया है। ये भाजपा की ही सरकार है जो हर वर्ग के लोगों के विकास के लिए काम करती है, भले ही दिल्ली में भाजपा की सरकार ना हो लेकिन दिल्ली के विकास के लिए भाजपा ने वो सारे काम किए जो दिल्ली की वर्तमान सरकार ने नहीं किया। अनधिकृत कालोनियों के रजिस्ट्रेशन पर लगने वाले कैपिटल गेन टैक्स को मोदी सरकार ने पूरी तरह से हटाकर लोगों को तोहफा दिया है। 16 दिसंबर से अनधिकृत कालोनियों का आॅनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू हो जायेगा जिसके बाद अनधिकृत कालोनियों में रहने वाले लोगों को रजिस्ट्री का अधिकार मिल जायेगा। 

    प्रदेश महामंत्री एवं कार्यक्रम संयोजक कुलजीत सिंह चहल ने बताया कि मोदी जी को धन्यवाद करने हेतु आने वाले दिनों में पूरी दिल्ली में जनसभाओं का आयोजन किया जाएगा। आगामी रविवार को दिल्ली की तीन विधानसभाओं में बड़ी जनसभाओं का आयोजन होगा। 


Click here for more interviews
Copyright @ 2017.