23/11/2020    दिल्ली विधान सभा अध्यक्ष गुजरात में दो दिवसीय सम्मेलन में भाग लेंगे।
दिल्ली विधान सभा अध्यक्ष गुजरात में पीठासीन अधिकारियों के दो दिवसीय सम्मेलन में भाग लेंगे। सम्मेलन 25 और 26 नवम्बर को गुजरात के केवड़िया में आयोजित किया जाएगा।

निश्चित ही इस सम्मेलन से लोकतंत्र और भारत के विकास को मजबूती मिलेंगी विधान सभा अध्यक्ष । दिल्ली विधान सभा अध्यक्ष श्री राम निवास गोयल संविधान दिवस के अवसर पर पीठासीन अधिकारियों के 80वें सम्मेलन में शामिल होंगे। यह दो दिवसीय सम्मेलन गुजरात के केवड़िया में आयोजित  किया जाएगा। 25 और 26 को आयोजित इस सम्मेलन में देश भर की सभी विधान सभाओं के अध्यक्ष शामिल होंगे। सम्मेलन की अध्यक्षता भारत के राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद करेंगे और उप-राष्ट्रपति श्री वैंकेया नायडु भी सम्मेलन में शामिल होंगे।
इस अवसर पर श्री गोयल ने कहा कि इस दो दिवसीय सम्मेलन में संविधान के बारे में विस्तृत रूप से विचार-विमर्श और चर्चाएं की जाएंगी। उन्होंने आगे कहा कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है। लोकतंत्र की गरिमा को अक्षुण्ण रखने के लिए सभी प्रांतों के विधान सभा अध्यक्षों का महत्वपूर्ण दायित्व होता है। उन दायित्वों पर गहन चर्चा करने के लिए विधान सभा के माध्यम से अध्यक्ष अपनी सर्वोपरि भूमिका निभाते हैं। 
अध्यक्ष महोदय ने कहा कि मेरा मानना है कि निश्चित ही इस सम्मेलन से लोकतंत्र और भारत के विकास को मजबूती मिलेंगी और इस सम्मेलन में किये गये विचार-विमर्श सरकार के कामकाज को चलाने में काफी सहायक होंगे। उन्होंने यह भी कहा कि स्वस्थ और सुचारूरूप से लोकतंत्र को चलाने के लिए इस तरह के सम्मेलनों का आयोजन अत्यंत जरूरी है जहां विधान सभाओं के अध्यक्ष एक दूसरे के विचार को साझा कर सकें और उनको विधान सभा की कार्यवाही में अमल में लाया जाए। 


Click here for more interviews
Copyright @ 2017.