13/07/2015  माननीयों ने भी खरीदीं हैं व्यापम की सीटें

भोपाल । यह खूनी व्यापमं घोटाला है। इस लड़ाई में जनता उतर आई है। यह जनता और भाजपा सरकार की लड़ाई है। मुख्यमंत्री कैसे राहत महसूस करते हैं। उन्हें और राज्यपाल को तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए। यह बात प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में रविवार को आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रदेश कांग्रेस प्रभारी मोहन प्रकाश और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने कही। उन्होंने 16 जुलाई को किए जाने वाले प्रदेश बंद में सहयोग मांगने के साथ ही एसआईटी व एसटीएफ की मंशा पर आरोप भी लगाए।

मोहन प्रकाश ने कहा कि 16 को प्रदेश बंद रखा जाएगा। इसमें प्रदेशभर से विभिन्न संगठनों से सहयोग मांगा है। कई संगठन सहयोग देंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता अब व्यापमं घोटाले की लड़ाई में उतर चुकी है। यह लड़ाई किसी एक की नहीं। जनता और भाजपा सरकार की लड़ाई है। उन्होंने एसआईटी और एसटीएफ की मंशा पर भी गंभीर सवाल खड़े किए।

प्रकाश ने कहा कि अब तक व्यापमं घोटाले की जांच कर रही एसटीएफ और एसआईटी दस्तावेज में हेर-फेर कर सकती हैं। अब ये दस्तावेज उन्हें अपने पास नहीं रखना चाहिए। अब सुप्रीम कोर्ट जांच सीबीआई को सौंप चुका है तो एसटीएफ और एसआईटी को मामले से जुड़े सभी दस्तावेज सीबीआई को सौंप देना चाहिए।

Copyright @ 2017.