13/07/2015  गंगाजल की तरह पवित्र हैं शिव: चौहान

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार चौहान ने कहा है कि उनकी पार्टी को व्याौवसायिक परीक्षा मंडल यानि व्याजपमं घोटाले का कोई अफसोस नहीं है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गंगा जल की तरह पवित्र हैं।

चौहान ने यह बात यहां पत्रकारों से चर्चा के दौरान कही। उन्होंने कहा कि व्यापमं के माध्यम से सात लाख भर्ती हुई हैं और इसमें से एक-दो हजार की शिकायत है। उसकी जांच की जा रही है। व्यापमं के झूठ का पर्दाफाश हो जाएगा।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस मौतों के आंकड़ों को लेकर भ्रम फैला रही है। वास्तव में व्यापमं से जुड़े 31 लोगों की मौत हुई है जिनमें से 15 की मौत एफआईआर दर्ज होने के पहले हुई है। बाकी में भी किसी की बीमारी से मौत हुई है तो किसी की स्वाभाविक। कुछ लोगों की सुसाइड से मौत हुई है। जब उनसे पूछा गया कि एसआईटी में जो आंकड़ा दिया था वह 25 था तो अब 31 कैसे मान रहे हैं, इस पर चौहान ने कहा कि उस समय 25 मौतों की जानकारी मिली थी लेकिन अब मौतों की संख्या 31 पता लगी है।

बीजेपी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को गंगाजल की तरह पवित्र बताकर गंगा और करोड़ों लोगों की आस्था का अपमान किया है। बीजेपी को हिंदुओं से माफी मांगनी होगी। सरकार और बीजेपी जनता को गुमराह करने की जगह घोटाले से उठे सवालों के जवाब दें। व्यापमं का सच गांव-गांव, घर-घर तक पहुंचाने के लिए रविवार से अभियान शुरू कर दिया गया है।

केके मिश्रा, मुख्य प्रवक्ता, कांग्रेस

Copyright @ 2017.