01/08/2015  ईंट भट्टों में झोंकी जा रही हरे-भरे वनों की लकड़ियां
बालाघाट। अवैध ईट भट्टों की बाढ़ सी हट्टा वन परिक्षेत्र के अंतर्गत देखी जा रही है हट्टा वन परिक्षेत्र अधिकारी अपने आपको पाक साफ बता रहे हैं जबकि सरेआम जंगलों की अवैध कटाई कर वहां की लकड़ियां र्इंट भट्टों में झोंकी जा रही है।
समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया से अनौपचारिक वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि हमारे क्षेत्र में एक भी अवैध ईंट भट्टों का संचालन नहीं किया जा रहा है जबकि वास्तविकता यह की सबसे ज्यादा ईंट भट्टे वहीं संचालित हो रहे हैं। जिले में बेशुमार अकूत वन संपदा भंडार का तो है ही खनिज संपदा की प्रचुरता भी है जिसका आये दिन विदोहन हो रहा है चाहे वन परिक्षेत्रों से लगे खदानों की बात हो या फिर अवैध मुरूम, गिट्टी खदानों से जुड़े मामले हो लगातार इनका विदोहन किया जा रहा है।
इस मामले में जिम्मेदार अधिकारी अपना पल्ला झाड़ने में लगे हैं कार्यवाही के नाम पर औपचारिकता दिखाकर मामलों को ले देकर निपटा लेने की प्रथा ने जंगलो को विनाश की कगार पर ला दिया है। कुछ वन अधिकारियों का तो यह भी कहना है कि जगंल कटते है तो हम क्या करें, रात दिन सेवा नही दे सकते समितियों को जंगल बचाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है वे नही निभा पा रहें है जबकि समितियो को कई अधिकार दिये गये है।
Copyright @ 2017.