28/03/2016  गाजे-बाजे व कव्वाली के साथ 11 अप्रेल को पेश होगी बालीबुड की चादर
अजमेेर।(कलसी) विश्व विख्यात सूफी संत हजरत ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती के सालाना 804वाँ उर्स में हर वर्ष की भांति इस साल भी 11 अप्रेल को गाजे-बाजे एवं यूपी के प्रसिद्ध कव्वालों द्वारा कव्वाली के साथ बालीबुड की ओर से चादर पेश की जायेगी।
दरगाह के खादिम सैय्यद कुतबुद्दीन सखी ने बताया कि इस बार ख्वाजा साहब के 804 वें उर्स मेेले में बालीबुड की ओर 11 अप्रेल को ख्वाजा साहब की मजार पर चादर पेश की जायेगी। बालीबुड की चादर दहेली गेट से गाजे-बाजे एवं यूपी के प्रसिद्ध कव्वाल मेहराज वारसी एण्ड पार्टी द्वारा कव्वाली पेश करते हुये जुलूस के रूप में रवाना होगी, जो दरगाह के निजाम गेट होते हुये दरगाह पहुंचेगी, जहां बडी शान-ए-शौकत के साथ बालीबुड की चादर पेश की जायेगी।
Copyright @ 2017.