राष्ट्रीय (08/06/2016) 
विदेशी मैगज़ीन फोर्ब्स की शक्तिशाली महिलाओं की सूची में चार भारतीय
फोर्ब्स की विश्व की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं में एसबीआई की अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक अरुंधती भट्टाचार्य और आईसीआईसीआई बैंक की प्रबंध निदेशक चंदा कोचर समेत चार भारतीय महिलाएं शामिल हैं। इस सूची में विश्व की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाएं शामिल हैं जो अरबों डॉलर के ब्रांड बना रही हैं और वित्तीय बाजारों में अहम भूमिका निभा रही हैं।
फोर्ब्स की 2016 की 100 सबसे अधिक शक्तिशाली महिलाओं में जर्मनी की चांसलर एंजला मर्केल शीर्ष पर हैं और इसमें पेप्सीको प्रमुख इंदिरा नूयी, बायोकॉन की संस्थापक किरण मजूमदार शॉ और एचटी मीडिया की प्रमुख शोभना भरतिया शामिल हैं। फोर्ब्स ने कहा कि इस साल की सबसे शक्तिशाली महिलाओं में विश्व की सबसे तेज-तर्रार, सख्त महिला कारोबारी नेतृत्व, उद्यमी, निवेशक, वैज्ञानिक, परोपकारी महिलाएं और मुख्य कार्यकारी शामिल हैं।
पत्रिका ने कहा कि ये ऐसी महिलाएं हैं जो अरबों डॉलर के ब्रांड बना रही हैं, वित्तीय बाजार में अपना दबदबा बना रही हैं और अंतरराष्ट्रीय समझौते कराने और सहायता प्रदान करने के लिए दुनिया भर की सैर कर रही हैं। फोर्ब्स ने कहा कि साठ वर्षीय भट्टाचार्य इस सूची में 25वें स्थान पर हैं और वह सबसे चुनौतीपूर्ण दौर से गुजर रही हैं क्योंकि भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) को वसूली में अटके 11 अरब डॉलर के भारी-भरकम ऋण का सामना करना पड़ रहा है।कोचर 40वें स्थान पर हैं और फोर्ब्स ने कहा कि देश के निजी क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक की प्रमुख को भारत की बैंकिंग प्रणाली की सबसे बड़ी मुश्किल (एनपीए) से मुकाबला करना है। महिला कर्मचारियों को आकर्षित करने के लिए कोचर ने आईवर्कऐटहाम पेश किया जिसके तहत महिला कर्मचारियों को साल भर के लिए घर से काम करने की सुविधा है।मजूमदार-शॉ इस सूची में 77वें स्थान पर हैं। अपने दम पर सफल उद्यमी बनीं 63 वर्षीय मजूमदार-शॉ ने बायोकॉन को इन्स्यूलिन क्षेत्र की बड़ी कंपनी के तौर पर स्थापित किया। इधर भरतिया 93वें स्थान पर हैं। नूई इस सूची में 14वें स्थान पर हैं। इनके अलावा अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रैटिक पार्टी की उम्मीदार हिलेरी क्लिंटन दूसरे स्थान पर हैं। इस सूची में फेडरल रिजर्व प्रमुख जेनेट येलेन (तीसरे), फेसबुक की मुख्य परिचालन अधिकारी शेरिल सैंडबर्ग (सातवें), अमेरिका की प्रथम महिला मिशेल ओबामा (13वें) म्यांमा की आंन सान सू की (26वे), महारानी एलिजाबेथ-1 (29वें), बांग्लोदश की प्रधान मंत्री शेख हसीना (36वें), नेपाल की राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी (52वें) और यूनेस्को की महानिदेशक आईरीना बाकोवा (89वें) का स्थान है।
Copyright @ 2019.