02/07/2016  नयी संसद के लिए शॉर्टन और टर्नबुल में बराबरी की टक्कर
ऑस्ट्रेलिया के राष्ट्रीय चुनावों के लिए शनिवार को ऑस्ट्रेलियाई नागरिकों ने मतदान किया. पिछले तीन सालों में देश का पांचवां प्रधानमंत्री बनने के लिए मैल्कम टर्नबुल और लेबर पार्टी के नेता बिल शॉर्टन आमने-सामने हैं. चुनाव पूर्व किए गए अधिकतर सर्वे में टर्नबुल और शॉर्टन के बीच कांटे का मुकाबला होने की संभावना हैऑस्ट्रेलियाई समयानुसार सुबह आठ बजे मतदान शुरू हुआ. हजारों मतदाता मताधिकार का प्रयोग करने के लिए मतदान केंद्रों पर कतार में खड़े नजर आए. इन चुनावों में एक करोड़ 50 लाख से अधिक मतदाता 55 से अधिक राजनीतिक दलों के 1600 से अधिक उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. पांच भारतीय मूल के उम्मीवार भी इन चुनावों में भाग्य आजमा रहे हैं.
प्रधानमंत्री टर्नबुल ने अप्रैल में दोनों सदनों को भंग करने की घोषणा की थी. इसके बाद उम्मीदवारों की आठ सप्ताह की आधिकारिक प्रचार मुहिम चली थी. इन चुनावों में 45वीं संसद के निचले सदन के 150 सदस्यों समेत कुल 226 सदस्यों का चयन किया जाएगा.
150 सीटों वाली प्रतिनिधि सभा में लेबर की मौजूदा समय में 55 और लिबरल राष्ट्रीय गठबंधन की 90 सीटें है. इसके अलावा पांच सीटें छोटे दलों या निर्दलीय सदस्यों के पास हैं. टर्नबुल और शॉर्टन के बीच कड़ा मुकाबला होने की संभावना है.
द ऑस्ट्रेलियन में छपी एक न्यूजपोल में दिखाया गया कि टर्नबुल का लिबरल नेशनल गठबंधन, लेबर पार्टी से 49.5 फीसदी के मुकाबले 50.5 फीसदी मतों से आगे है. इससे यूरोपीय संघ छोड़ने के ब्रिटेन के फैसले से टर्नबुल को लाभ हुआ दिखता है. ऑस्ट्रेलियाई चुनाव आयोग ने बताया कि देशभर में करीब 7000 मतदान केंद्रों पर 75000 पुलिसकर्मी तैनात हैं.

Copyright @ 2017.