राष्ट्रीय (09/07/2016) 
ब्रिटेन में रहकर सुनवाई क्यों नहीं हो सकती
विजय माल्या भारत लौटन को तैयार नहीं हैं. माल्या ने न्यूज एजेंसी रायटर्स से एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि ब्रिटेन में रहकर वो जांच में शामिल होना चाहते हैं, उन्होंने कहा कि ब्रिटेन में रहकर सुनवाई क्यों नहीं हो सकती, जांच एजेंसियां वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये जांच में उन्हें शामिल कर सकती वहीं लंदन शुक्रवार को माल्या लोगों के बीच सार्वजनिक तौर पर नजर आए. माल्या ब्रिटिश फॉर्मूला वन ग्रां प्री से पहले सिल्वर्सटन सर्किट में फ्री प्रैक्टिस सेशन में शामिल हुए. माल्या एफवन रेसिंग टीम फोर्स इंडिया के सीईओ हैं. 
माल्या निजी तौर पर भले ही मुश्किल समय से गुजर रहे हों लेकिन उनकी टीम इस सत्र में दो बार पोडियम पर जगह बना चुकी है. सर्जियो पेरेज मोनाको और बाकू दोनों रेस में तीसरे स्थान पर रहे. माल्या ने स्वीकार किया कि भारत सरकार के पासपोर्ट रद्द करने से यात्रा नहीं कर पाना हताशा भरा है. उन्होंने कहा कि इंग्लैंड मेरे लिए घर की तरह है. फोर्स इंडिया के संदर्भ में माल्या ने कहा कि उनकी टीम अच्छी स्थिति में है और इस सत्र में उनका लक्ष्य चौथा स्थान होगा. फोर्स इंडिया के अभी 59 अंक हैं जबकि विलियम्स 92 अंक के साथ चौथे स्थान पर है. माल्या की बंद हो चुकी किंगफिशर एयरलाइन्स पर 17 भारतीय बैंकों का 9 हजार करोड़ रुपए का कर्ज बकाया है. 
Copyright @ 2019.