24/07/2017  किशनगंज (बिहार) ने मादक पदार्थ, हैरोइन 2.9 किग्रा जब्त किया
नई दिल्ली - सशस्त्र सीमा बल, 12वी वाहिनी किशनगंज को दिनांक 22.07.17 को आसूचना प्राप्त हुयी कि कुछ दवा विक्रेता कालिचक(पश्चिम बंगाल) से सिलीगुड़ी(बिदानगर) में मादक पदार्थो की तस्करी की कोशिश कर रहें हैं। इस आसूचना को संयुक्त निदेशक, एनसीबी (नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो), कोलकाता के साथ संझा किया गया और अपराधियों को पकड़ने के लिए एक संयुक्त टीम की स्थापना की गई । इसके बाद, संयुक्त टीम ने बिदानगर
(जिला-दार्जीलिंग) में बाजार के पास घेराबंदी कीI तत्पश्चात इनफॉर्मर की सहायता से एक बस को रोका गया और उसपर सवार एक पुरुष और एक महिला की पहचान अपराधी के रूप में की गयी और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गयाI मौके पर पूछताछ के दौरान, उन्होंने अपनी पहचान भुली बीबी, पुत्री स्वर्गीय अक्षर एसके, उम्र लगभग 30 वर्ष के रूप में बतायी जो गांव- कांति पार, डाकघर- रशखोवा, थाना- करंदीघी, जिला- उत्तर दिनाजपुर, पश्चिम बंगाल और बुद्धदेव बिस्वास, पुत्र स्वर्गीय प्रामथ रंजन बिस्वास, उम्र 42 वर्ष, गांव
डाकघर हसन, थाना दालखोला, जिला- उत्तर दिनाजपुर, पश्चिम बंगाल के निवासी हैI
उनके सामान की खोज करने पर, भूरे रंग के पदार्थ की दो प्लास्टिक के पैकेट अलग-अलग थैलों से बरामद हुए, जिसका वजन क्रमशः 1.4 कि.ग्रा. और 1.5 कि.ग्राम था, जिसकी पहचान हैरोइन के रूप में हुयीI जब्त किये गए कुल 2. 9 किलोग्राम हैरोइन की अनुमानित मूल्य लगभग 14, 50,000 / - रूपये हैI जब्त हैरोइन और गिरफ्तार व्यक्तियों को सिलीगुड़ी अदालत में पेश किये गयेI भारत-नेपाल सीमा पर एसएसबी के लिए मादक पदार्थ की तस्करी प्रमुख चुनौतियों में से एक है। यह केवल बल कर्मियों की सक्रियता और अथक प्रयासों की वजह से रोका जा सका है और इस वर्ष अकेले ही, एसएसबी ने लगभग
8191 किलो ग्राम मादक पदार्थ (बुक्की 3 किलोग्राम, ब्राउन सुगर 3.12 किलोग्राम, चरस 258.71 किलोग्राम, कोकीन 0.07 किलोग्राम, डोडा 12 किलोग्राम, गांजा 7846.68 किलोग्राम, हेरोइन 6.6 किलोग्राम ओपियम 60.13 किलोग्राम, पोस्टा 1.22 किलोग्राम, स्मैक 0.299 किलोग्राम, मॉर्फिन 0.150 किलोग्राम) 196 मामलों में 1,40,64,15,552/- रूपये मूल्य की जब्ती की हैI अभी तक इस साल 197 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है और उनके खिलाफ एनडीपीएस के विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया हैI
Copyright @ 2017.