:
दिल्ली, DELHI हरियाणा , HARYANA पंजाब, PUNJAB चंडीगढ़, CHANDIGARH हिमाचल HIMACHAL राजस्थान, RAJASTHAN अंर्तराष्ट्रीय INTERNATIONAL उत्तराखण्ड, UTTRAKHAND महाराष्ट्र , MAHARASHTRA मध्य प्रदेश MADHYA PRADESH गुजरात GUJRAT नेशनल, NATIONAL छत्तीसगढ CG उत्तर प्रदेश UTTAR PRADESH बिहार, BIHAR
ताज़ा खबर
हिंदी दिवस पखवाड़ा पर युवाओं को स्वच्छता अभियान का हिस्सा बने का दिया सन्देश   |   लवकुंश रामलीला में 40 बॉलीवुड एक्टर ले रहे है भाग   |  शराबबंदी के बाद अब एनर्जी ड्रिंक और फ्रूट बियर पर उठे सवाल,SC ने कहा पटना हाईकोर्ट तय करे…   |   हिंदी दिवस पखवाडा पर नारा लेखन प्रतियोगिता का आयोजन   |   ब्लॉक स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन    |  *दिल्ली का वांछित अपराधी सोनू दरियापुर गिरफ्तार*   |  ‘डिजिटल समावेशन वित्‍तीय समावेशन की बुनियाद है’ – रविशंकर प्रसाद    |  भारत, बेलारूस के साथ रिश्‍ते मजबूत बनाने के लिए प्रतिबद्ध : राष्‍ट्रपति    |   अन्तरसामूहिक संवाद उपागमयुक्त 12 दिवसीय कोर्स की विधिवत शुरुआत    |  14वें मटकी फोड़ कार्यक्रम गोविंदा आला रे में सुप्रसिद्ध गायक कलाकार श्री मनोज तिवारी व श्री दलेर मेंहदी अपनी कला का जौहर बिखेरेंगे।   |  
दिल्ली की राजौरी गार्डन विधानसभा सीट पर उपचुनाव का परिणाम। सभी पाठकों को डॉ भीम राव अम्बेडकर जयंती की हार्दिक शुभकामनाएँ।श्रीनगर लोकसभा उपचुनाव में वोटों की गिनती जारी।MCD चुनाव के पहले रुझान में बीजेपी आगे।नगर निगम चुनाव के पहले रुझान में कांग्रेस ने आप को पछाडा।
25/07/2017  
पश्चिम बंगाल सरकार के खिलाफ एनडीटीएफ का प्रदर्शन
 
 

नई दिल्ली, दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रोफेसर राकेश सिन्हा के खिलाफ पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी सरकार द्वारा दायर की गयी एफआईआर के विरोध में दिल्ली विश्वविद्यालय के उत्तरी परिसर में आर्ट फेकल्टी के बाहर नेशनल डेमोक्रेटिक टीचर फ्रंट के तत्वावधान में धरना एवं विरोध प्रदर्शन आयोजित किया गया.नेशनल डेमोक्रेटिक टीचर फ्रंट के अध्यक्ष श्री ए.के. भागी ने इस विषय पर बताया कि प्रो. राकेश सिन्हा पर दायर की गयी एफआईआर पूर्णतः गलत है, उन्होंने कभी भी किसी धर्म, जाति के खिलाफ अपमानजनक बातें नहीं कीं. धरने में मौजूद देश के प्रथम शिक्षा मंत्री डॉ. अब्दुल कलाम आज़ाद के पौत्र श्री फ़िरोज़ बख्त आज़ाद के हैरानी जताते हुए कहा कि वामपंथ की सरकार से भी बदत्तर काम ममता सरकार कर रही है, जिसका प्रमाण राकेश सिन्हा जैसे राष्ट्रवादी व्यक्ति पर एफआईआर करना है. श्री सिन्हा ने कभी भी मुसलामानों के लिए अपमानजनक बातें नहीं की. ऐसा वह हम सभी के साथ भी कर सकती हैं, इसलिए यह विरोध प्रदर्शन यहाँ करना आवश्यक था.पश्चिम बंगाल की वर्तमान स्थिति से भलीभांति परिचित राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली ने धरने में विरोध जताते हुए कहा कि ममता बनर्जी ने दो दीदी शब्द को ही शर्मसार कर दिया है. प. बंगाल में अपराध की घटनाएं पुलिस रिकॉर्ड में बहुत कम हो गई हैं, इसका अर्थ यह नहीं है कि वहां अपराध नहीं हो रहे, जबकि वास्तविकता यह है कि वहां अपराधों की रिपोर्ट पुलिस द्वारा दर्ज ही नहीं की जा रही हैं. राज्य में हिन्दुओं के साथ ज्यादती हो रही है और ज्यादती करने वालों पर पश्चिम बंगाल सरकार का संरक्षण है. राज्य में हिन्दुओं की बहु बेटियां सुरक्षित नहीं हैं, आए दिन उनके साथ होने वाली अमानवीय घटनाएं सामने आ रही हैं. उन्होंने प्रो. राकेश सिन्हा के समर्थन में कहा कि उनके खिलाफ की गयी एफआईआर पूर्णतः आधारहीन है.धरने की समाप्ति पर एन.डी.टी.एफ. की ओर से एक प्रतिनिधि मंडल ने दिल्ली के उपराज्यपाल को ज्ञापन सौंप कर प्रो. राकेश सिन्हा के खिलाफ एफआईआर वापस लेने की मांग की. धरने में दिल्ली विश्वविद्यालय के लगभग 500 छात्र और प्राध्यापक उपस्थित थे. 

      Back