:
दिल्ली, DELHI हरियाणा , HARYANA पंजाब, PUNJAB चंडीगढ़, CHANDIGARH हिमाचल HIMACHAL राजस्थान, RAJASTHAN अंर्तराष्ट्रीय INTERNATIONAL उत्तराखण्ड, UTTRAKHAND महाराष्ट्र , MAHARASHTRA मध्य प्रदेश MADHYA PRADESH गुजरात GUJRAT नेशनल, NATIONAL छत्तीसगढ CG उत्तर प्रदेश UTTAR PRADESH बिहार, BIHAR
ताज़ा खबर
हिंदी दिवस पखवाड़ा पर युवाओं को स्वच्छता अभियान का हिस्सा बने का दिया सन्देश   |   लवकुंश रामलीला में 40 बॉलीवुड एक्टर ले रहे है भाग   |  शराबबंदी के बाद अब एनर्जी ड्रिंक और फ्रूट बियर पर उठे सवाल,SC ने कहा पटना हाईकोर्ट तय करे…   |   हिंदी दिवस पखवाडा पर नारा लेखन प्रतियोगिता का आयोजन   |   ब्लॉक स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन    |  *दिल्ली का वांछित अपराधी सोनू दरियापुर गिरफ्तार*   |  ‘डिजिटल समावेशन वित्‍तीय समावेशन की बुनियाद है’ – रविशंकर प्रसाद    |  भारत, बेलारूस के साथ रिश्‍ते मजबूत बनाने के लिए प्रतिबद्ध : राष्‍ट्रपति    |   अन्तरसामूहिक संवाद उपागमयुक्त 12 दिवसीय कोर्स की विधिवत शुरुआत    |  14वें मटकी फोड़ कार्यक्रम गोविंदा आला रे में सुप्रसिद्ध गायक कलाकार श्री मनोज तिवारी व श्री दलेर मेंहदी अपनी कला का जौहर बिखेरेंगे।   |  
दिल्ली की राजौरी गार्डन विधानसभा सीट पर उपचुनाव का परिणाम। सभी पाठकों को डॉ भीम राव अम्बेडकर जयंती की हार्दिक शुभकामनाएँ।श्रीनगर लोकसभा उपचुनाव में वोटों की गिनती जारी।MCD चुनाव के पहले रुझान में बीजेपी आगे।नगर निगम चुनाव के पहले रुझान में कांग्रेस ने आप को पछाडा।
01/08/2017  
जुगुनू कोरिया के के-स्टार्टअप ग्रांड चैलेंज का फाइनलिस्ट बना
 
 

बी2बी सर्विस प्रदान करने वाला - टूकन भारत के 70 स्टार्टअप्स में से शीर्ष 3 में से  एक के तौर पर फाइनलिस्ट में पहुंचा

नई दिल्ली, 31 जुलाई 2017: जुगनु, भारत का अग्रणी हाइपरलोकल स्टार्टअप, अब दक्षिण कोरियाई बाजार में प्रवेश करने के लिए तैयार है। बी2बी प्रदान करने वाली कम्पनी टूकन के-स्टार्ट अप ग्रांड चैलेंज में भाग लेने के लिए शीर्ष तीन फाइनलिस्ट में से एक के तौर पर चुनी गई है। के-स्टार्टअप ग्रांड चैलेंज एक 4 माह का एक्सीलेटर प्रोग्राम है, जिसे कोरियाई सरकार ने आयोजित किया है। जुगनू को 70 भारतीय स्टार्टअप कम्पनियों में से चुना गया है जिसने 3 शीर्ष ंफाइनलिस्ट में से एक बनने के लिए चैलेंज के लिए आॅडिशन दिया था। यह टीम के लिए एक बड़ी उपलब्धि है टूकन सास (एसएएस) आधारित मंच है जोकि एंड-टू-एंड फील्ड फोर्स मैनेजमेंट सोल्युशंस के लिए अग्रणी है। यह एक अनूठा आॅफ--शेल्फ उत्पाद है और कस्टमाइजेबल एप्प का मार्केटप्लेस आॅफर करता है। इस एप्प से क्लांइट को फ्लीट वर्कफोर्स को दक्षतापूर्वक मैनेज करने की सुविधा मिलती है समर सिंगला, सीईओ तथा फाउंडर, जुगुनू ने कहा, सास (एसएएस) उद्योग में विशेष विकास तथा आपार संभावनाएं देते हुए, जज टूकन की वर्तमान उपस्थिति से काफी प्रभावित हुए और हमारी आगे भी विस्तार करने की योजना है। हमें जो भी अवसर मिलेगा उसका हम भरपूर फायदा उठायेंगे। कोई भी ऐसी कम्पनी जो कस्टमर को सर्विस प्रदान कर रही है, तथा उसे उचित आईटी इंफ्रस्ट्रक्चर की जरूरत है, वह टूकन का इस्तेमाल कर सकती है। जैसा कि कोरियन की अधिकांश जनसंख्या स्मार्टफोन यूजर है, तथा सरकार ने देशभर में इंटरनेट फेसिलिटी स्थापित की है, इसीलिए कोरिया में आपार संभावनाएं दिखलाई पड़ रही हैं। आॅन डिमांड टेक्नोलाॅजी में ग्लोबल लीडर होने, तथा पहले से ही करीबन 100 देशों में 800 से अधिक कम्पनियों को पावर प्रदान कर, टूकन कोरियन मार्केट में प्रवेश कर के-स्टार्टअप ग्रांड चैलेंज से लाभ लेगी।

जुगुने के बारे में: वर्ष 2014 में लांच हुई जुगुनू, भारत में आॅन डिमांड हाइपरलोकल डिलीवरी के लिए सबसे बड़ा आॅटो रिक्शा (टुकटुक) एग्रीगेटर तथा तीसरा सबसे बड़ा ट्रांस्पोर्ट एग्रीगेटर है। कम्पनी विस्तृत श्रृंखला की सेवाएं प्रदान कर रही है जैसे राइड्स, रेडी- टू-इट, रेस्टोरेंट फूड डिलीवरी, ग्रोसरी और बी2बी डिलीवरी तथा बी2सी डोमेन। जुगुनू इस उद्योग में अग्रणी हाइपर लोकल स्टार्टअप में से एक है। कम्पनी वर्तमान में भारत में 35 से अधिक शहरों में अपनी सेवाएं प्रदान कर रही है। और करीबन 50,000 दैनिक ट्रांस्जेक्शन कर रही है। वर्तमान में इस ब्रांड के तहत इसके 15,000 आॅटो एम्पेनल्ड हैं। जुगुनू भारत में तीसरी सबसे बड़ी लाभकारी आॅन डिमांड कम्पनी है। आॅन डिमांड टेक्नोलाॅजी देने वाली जुगुनू उद्यमकर्ताओं को टूकन के माध्यम से जुगुनू जैसा अपना व्यवसाय चलाने के लिए टेक्नोलाॅजी प्रदान करती है।

      Back