14/12/2017  एनजीटी के फैसले का ब्राम्हण सभा विरोध करेगी
नई दिल्ली। इन्द्रप्रस्थ चांदनी चौक ब्राम्हण सभा (पंजी) ने बाबा अमरनाथ यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं के बाबा भोलेनाथ के जयकारे लगाने व घंटी ध्वनि पर रोक लगाने के एनजीटी के फैसले की कडी भर्त्सना की है। इस विषय को लेकर कार्यालय पर आयोजित आपात बैठक में पं प्रेम शंकर शर्मा की अध्यक्षता में महामंत्री श्री दलीप जेटली ने निंदा प्रस्ताव रखा जिसे सभा के सैकडों सदस्यों ने पारित किया। सभा के प्रवक्ता श्री विजय शर्मा ने कहा कि राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) अपने दायरे से निकलकर भाग रही है। हिन्दू धर्म स्थलों को चुन-चुनकर निशाना बना रही है। कभी वैष्णो देवी में तीर्थ यात्रियों की संख्या घटाने की बात करती है, तो अब अमरनाथ यात्रा के दौरान दिल से लगने वाले जयकारे व श्रद्धा से बजने वाली घंटी पर प्रतिबंध लगाने की बात कहकर हिन्दु विरोधी कार्य कर 100 करोड हिन्दुओं की भावनाओं से खिलवाड कर रही है। श्री शर्मा ने कहा कि भारत धर्मनिरपेक्ष देश है और यहां किसी को भी धार्मिक परंपराओं में हस्ताक्षेप का अधिकार नही है। बैठक में सुरेंद्र शर्मा, भूपेंद्र भारद्वाज रत्न, सुरेंद्र संड रामशरण शर्मा, उमेश शर्मा, संजय भारद्वाज, प्रकाश चंद शर्मा, पं रामअवतार शर्मा, धीनेंद्र शर्मा, रवि शर्मा, रमेश वशिष्ठ, पं अश्वनी भारद्वाज, विनोद शर्मा, राजीव गोस्वामी व श्रीमती वीना शर्मा ने भी रोष प्रकट किया।
Copyright @ 2017.