11/01/2018  आधार मुद्दे पर रिपोर्टर को अवार्ड मिले : स्नोडन

नयी दिल्ली । अमेरिकी व्हिसल ब्लोवर एडवर्ड स्नोडन भी अब आधार डेटा लीक की खबर देने वाले ट्रिब्यून अखबार के पत्रकार के समर्थन में उतर आए हैं। उन्होंने कहा कि आधार डेटा में कथित सेंध की खबर देने वाले भारतीय पत्रकार के खिलाफ जांच बिठाने की जगह उसे पुरस्कृत किया जाना चाहिए।
बता दें कि आधार डेटा लीक मामले को पत्रकार रचना खैरा ने सामने लाया था। स्नोडन ने कहा कि भारत सरकार को अपने नागरिकों की प्राइवेसी की रक्षा के लिए अपनी नीतियो में सुधार करना चाहिए। 34 साल के एडवर्ड स्नोडेन अमेरिकी सेंट्रल इंटेलीजेंस एजेंसी (CIA) के पूर्व कर्मचारी हैं, जिन्होंने फोन और इंटरनेट पर अमेरिकी निगरानी का खुलासा किया था। गौरतलब है कि, 3 जनवरी को ट्रिब्यून की संवाददाता रचना खैरा ने अपनी एक रिपोर्ट में दावा किया था कि महज 500 रुपये देकर कोई भी व्यक्ति 10 मिनट के भीतर किसी भी आधार धारक के बारे में जानकारी हासिल कर सकता है। आपको बता दें कि रचना ने आधार की जानकारी प्राप्त करने के लिए एक नकली पहचान सामने रखी थी। इसके बाद उन्होंने अपनी रिपोर्ट में दावा किया कि उनके पास व्यक्तियों की वो जानकारी है जो उन्होंने आधार धारको ने कार्ड में दर्ज कराई थी। हालांकि UIDAI ने रचना की इस रिपोर्ट को खारिज करते हुए कहा था कि डेटा का लीक होना किसी भी तरह से मुमकिन नहीं है। इस मामले के फैलने के बाद UIDAI ने पत्रकार रचना खैरा और संस्थान के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई। इसी मामले में एडवर्ड स्नोडन ने ट्वीट कर ट्रिब्यून अखबार के पत्रकार रचना खैरा के समर्थन में आए।
Copyright @ 2017.