12/01/2018  
सुप्रीम कोर्ट को नहीं बचाया गया तो लोकतंत्र खत्म हो जाएगा: जस्टिस चलेमेश्वर
 
 

नयी दिल्ली । पहली बार सुप्रीम कोर्ट के 4 जजों ने मीडिया को संबोधित किया। इस दौरान जस्टिस जे. चलेमेश्वर ने सभी जजों की तरभ से मीडिया का शुक्रिया अदा किया। उन्होंने कहा कि यह किसी भी देश के इतिहास में अभूतपूर्व घटना है क्योंकि हमें ब्रीफिंग करने के लिए मजबूर होना पड़ा है। जस्टिस जे. चलेमेश्वर ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में बहुत कुछ ऐसा हुआ है जिसे बिल्कुल नहीं होना चाहिए था।  हमें लगा, हमारी देश के प्रति जवाबदेही है और हमने मुख्य न्यायधीश को मनाने का प्रयास भी किया, लेकिन हमारी कोशिश नाकाम रही। अगर संस्थान को नहीं बचाया गया तो लोकतंत्र नाकाम हो जाएगा। सुप्रीम कोर्ट के दूसरे सबसे सीनियर जज जस्टिस जे. चलेमेश्वर ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के प्रशासन को लेकर सुधारात्मक कदम उठाने के लिए हमने मुख्य न्यायधीश को चिट्ठी दी थी। मगर यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे प्रयास असफल रहे। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में जस्टिस जे चेलमेश्वर के साथ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस मदन लोकुर और जस्टिस कूरियन जोसफ शामिल थे।

      Back
 
Copyright @ 2017.