23/01/2018  बूंदाबादी के साथ ठंड ने फिर दी दस्तक
पिछले कई दिनों से लगातार बढ़ रहे तापमान से जहां किसान अपनी फसलों को लेकर चिंतित थे। लेकिन आज सुबह से हो रही बूंदाबादी के बाद लहलाहति फसलों को देख किसानों के चहरे फिर से खिल उठे। 
इस संधर्भ में में जब हमने किसानों से बात की तो उनका कहना था कि पिछले दिन बढ़ते तापमान के कारण एक शंका बनी हुई थी कि उनकी सरसों और गेहूं की फसल का क्या होगा। लेकिन आज हुए अचानक हुई बरसात से वो बेहद खुश है क्योंकि यह बारिश नहीं फसलों के लिए सोना है। अगर एक या दो बार ऐसी बरसात और हो जाए तो फसलों के लिए सोने पे सुहागा साबित होगी। आज हुई बरसात से सरसों और गेहूं की फसल में 15 से 20 फीसदी बढ़ोतरी होगी। 
आज हुई बरसात से ठिठुरन फिर से बढ़ी है जिसके चलते लोगों ने एक बार फिर से अलाव का साहारा लिया है। वहीं अनाज मंडी में प्रशासनिक खामियां भी देखने को मिली की वहा रखी सरसों पूरी तरह से भीग गई।
Copyright @ 2017.