17/02/2018  दिल्ली भाजपा के वरिष्ठ नेताओं और पदाधिकारियों ने राजघाट से दिल्ली सचिवालय तक अरविन्द केजरीवाल सरकार के अधीन मार्च निकाला
दिल्ली भाजपा के वरिष्ठ नेताओं और पदाधिकारियों ने राजघाट से दिल्ली सचिवालय तक अरविन्द केजरीवाल सरकार के अधीन दिल्ली में रूके विकास कार्य, भ्रष्टाचार और भाई-भतीजेवाद के विरूद्ध मार्च निकाला...
प्रदेश महामंत्री कुलजीत सिंह चहल ने वरिष्ठ नेताओं के मार्च का संयोजन किया जिसमें दिल्ली भाजपा सह-प्रभारी तरूण चुघ, राष्ट्रीय मंत्री सरदार आर पी सिंह, सांसद प्रवेश वर्मा, नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता, प्रदेश उपाध्यक्ष जय प्रकाश, राजीव बब्बर, अभय वर्मा्, प्रदेश पदाधिकारी, जिला और मोर्चों के अध्यक्ष और पार्षद सम्मलित रहे...भाजपा नेताओं का कहना था कि ये मार्च केजरीवाल सरकार को सदबुद्धि देने के लिए शुरु किया गया है..जिससे कि सरकार दिल्ली के लोगों के लिए कार्य करे...
दिल्ली भाजपा महामंत्री कुलजीत सिंह चहल ने कहा कि आज हमनें केजरीवाल सरकार के भ्रष्टाचार के विरूद्ध मार्च के लिए राजघाट को इसलिये चुना कि हम जनता का ध्यान इस ओर आकृषित करना चाहते हैं..कि किस प्रकार केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के लोगों को राजघाट पर बैठकर और प्रार्थना करने के केमरा क्लिक्स के साथ दिल्ली की जनता को मूर्ख बनाया है..
भ्रष्टाचार के उदाहरण देते हुये चहल ने कहा कि टाक टू एके नामक सोशल मीडिया अभियान में कंसलटेंट की नियुक्ति बिना किसी टैंटर प्रक्रिया के की गई और उसे ही अभियान को क्रियानवित करने का कार्य भी दिया.. मुख्यमंत्री के एक निकट नातेदार डाॅ. निकुंज अग्रवाल को सीनियर रेजिटेंट के पद पर बिना किसी रिक्त पद के नियुक्त किया गया.. श्री अमानातुल्लाह खान की अध्यक्षता वाले वक्फ बोर्ड द्वारा 126 अतिक्रमणों को जारी रखने दिया गया..क्रियेटिव टीम-पीडब्ल्यूडी की नियुक्ति में टैंडर प्रक्रिया में हेराफेरी करके पेशेवरों को क्रियेटिव टीम में नियुक्त किया गया।  इतना ही नहीं स्वास्थ्य विभाग के अधीन बिना टैंडर प्रक्रिया के अस्पतालों के लिए 3 सुरक्षिा एजेंसियां रखीं गईं जो नियमों के विरूद्ध थीं।  सतर्कता निदेशालय में फीड बैक यूनिट के नाम में 17 सेवानिवृत्त अधिकारियों को बिना किसी प्रक्रिया का पालन किये ही नियुक्त कर दिया गया।  मंत्री सतेन्द्र जैन ने तो अपनी पुत्री सोम्या जैन को आम आदमी मोहल्ला क्लिनिक के लिये मिशन डायरेक्टर का सलाहकार नियुक्त किया गया जबकि ऐसा कोई पद नहीं था और न ही इसमें नियमों का पालन किया गया।  मंत्री सतेन्द्र जैन और एक अधिकारी ऋषिराज के बीच भ्रष्टाचारी सांठगांठ अभूतपूर्व है क्योंकि उन्होंने उक्त अधिकारी का बैंक लाॅकर अपने वित्तीय कागजातों को छुपाने के लिए किया.. 
तरूण चुघ ने कहा कि आज हम दिल्ली सचिवालय तक मार्च कर रहे हैं जिससे कि दिल्ली के युवाओं और महिलाओं को केजरीवाल सरकार द्वारा किये गये वायदों और शिक्षा तथा सुरक्षा में सुधार करने के उसके वायदे को याद दिलाया जा सके और यदि सरकार अब भी नहीं जागती है तो दिल्ली भाजपा उसके खिलाफ नियमित रूप से आंदोलन करेगी..
विजेन्द्र गुप्ता ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल भ्रष्ट और झूठे लोगों की सरकार और पार्टी का नेतृत्व कर रहे हैं और आगामी चुनाव में आम आदमी पार्टी को हराने के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं से संघर्ष करने को तैयार रहने को कहा..
प्रवेश वर्मा ने कहा कि केजरीवाल सरकार दिल्ली को किये गये चुनावी वायदों को पूरा करने में नाकाम रही है और इतिहास में इस सरकार को घोटालों की सरकार के रूप में याद किया जायेगा।  उन्होंने दिल्ली की अनधिकृत कालोनियों के लोगों के साथ धोखा करने के लिए केजरीवाल सरकार की भत्र्सना की क्योंकि उसने वर्ष 2014 में ही केन्द्र सरकार द्वारा अनुमोदन किये जाने के बावजूद नियमितिकरण का काम नहीं किया..
भाजपा महामंत्री रविन्द्र गुप्ता एवं राजेश भाटिया ने अपने सम्बोधन में कहा कि केजरीवाल सरकार दिल्ली में शिक्षा, स्वास्थ्य, प्रदूषण नियंत्रण, सार्वजनिक परिवहन, रोजगार देने में असफल रही है और उसने 2015 में प्राप्त भारी बहुमत का दुरूपयोग भी किया है लेकिन अब आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनाव में वर्ष 2017 के नगर निगम चुनावों की तरह ही हारने वाली है...

Copyright @ 2017.