24/02/2018  नरेला स्थित कस्तूरी राम कॉलेज ऑफ़ हायर एजुकेशन में दूसरे अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह का उद्घाटन किया गया

नयी दिल्ली ।नरेला स्थित कस्तूरी राम कॉलेज ऑफ़ हायर एजुकेशन में आज दूसरे अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह का शुभारम्भ हुआ। समारोह का उद्घाटन कॉर्पोरेट और विदेशी मामलों के जनसम्पर्क सलाहकार वी एन झा ने किया। जबकि समारोह की अध्यक्षता संस्थान के निदेशक डॉ के बी अस्थाना ने की।

पत्रकारिता एवं जंचार विभाग द्वारा आयोजित फिल्म फेस्टिवल के पहले दिन लघु चित्र का प्रदर्शन किया  गया जबकि दूसरे दिन वृत्त चित्र ,विज्ञापन फिल्म और मोबाइल मेकिंग का प्रदर्शन किया जायेगा। कार्यक्रम में 5 विदेशी प्रविष्टियों सहित कुल 70 फ़िल्में प्रविष्टियां दर्ज़ की गयी हैं।

संस्थान के निदेशक डॉ अस्थाना ने कहा कि सिनेमा समाज का आइना होता है जैसी तस्वीर और विचार हम समाज में देखते हैं वही नाटकीय रूप में हम परदे पर भी देखते हैं। पहले के सिनेमा की पहचान रंग ,रूप और विचार अलग थे। लेकिन परिवर्तन ही संसार का नियम है। सिनेमा में भी समय के साथ

साथ बदलाव आये हैं। दादा साहब फाल्के की ऐतिहासिक शुरुआत और विरासत आज रूप बदलकर एक नए रूप में हमारे सामने है। आज का दौर रचनात्मकता का है। सिनेमा और फिल्म मेकिंग भी

रचनात्मक कृति है। आजकल विद्यार्थी और फिल्म मेकर्स अपने विचारों और समाज की विभिन्न परिस्थितियो को अपनी कलात्मक रचना के माध्यम से लोगों को दिखने लगे हैं। 'आरम्भफिल्म

समारोह हर वर्ष इसी कड़ी में ऐसे रचनात्मक लोगों को एक मंच प्रदान करता है। बतौर मुख्य अतिथि वीएन झा ने समारोह के आयोजन पर संस्थान और आरम्भ की पूरी टीम को बधाई दी। उन्होंने कहा कि राज कपूरसत्यजीत रे और गुरुदत्त के सिनेमा क्रांति के बाद भारतीय सिनेमा में एक नया बदलाव आया। लोगों की रुचि भी परदे के प्रति बढ़ने लगी। और इसका जीता जगता उदहारण है आज हमारी फिल्मे 500 करोड़ से लेकर 1000 करोड़ तक का भी व्यवसाय कर रही हैं। आज सिनेमा सिर्फ

पेशेवर फिल्म मेकर्स तक ही सीमित नहीं रह गया है। इसका उदहारण है कि कॉलेज के बच्चे भी अपनी

कृतियां इस समारोह में प्रदर्शन के लिए लेकर आये हैं। इन्ही छोटी छोटी रचनाओं में ही समाज की सही झलक देखने को मिलती है। यही अभिव्यक्ति की आज़ादी सही परिभाषा भी है। ऐसी लघु फिल्मे काम समय में भी समाज पर सकारत्मक और गहरा प्रभाव छोड़ती है।संस्थान के चेयरमैन राजेश कुमार अग्रवाल ने सभी को शुभकामनायें देते हुए कहा कि ये फिल्म समारोह उभरते हुए कलाकारों को केवल

एक मंच ही नहीं देता बल्कि उनको प्रोत्साहित भी करता है। कस्तूरी राम संस्थान ऐसी प्रतिभाओं को सहयोग और सम्मान देने के लिए हर वक़्त वचनबद्ध है। मंच का सञ्चालन पत्रकारिता विभाग के छात्र पवन और सान्या ने किया। कार्यक्रम के संयोजक सहायक

प्रोफेसर सुरेंद्र पाल सिंह और विभागाध्यक्ष डॉ गोपाल ठाकुर और उपासना खुराना सहित अन्य फैकल्टी मेंबर भी कार्यक्रम में मौजूद रहे। बाहर से आये लोगों के साथ संस्थान के छात्रों ने भी लघु फिल्मों का आनंद लिया और अपने विचार व्यक्त किये। सभी प्रविष्टियों के परिणामों की घोषणा कल समापन 


Copyright @ 2017.