15/05/2018  माता वैष्णो देवी के भक्तों को तोहफा, बाणगंगा से अर्धकुवांरी के बीच नए रास्ते की शुरुआत

गर्मियों की छुट्टियों में माता वैष्णो देवी के दर्शन को जाने वाले यात्रियों के लिए खुशखबरी है। यहां दर्शन के लिए जाने वाले यात्रियों को और सहूलियत देने के लिए रविवार को मंदिर मार्ग पर स्थित बाणगंगा से अर्धकुंवारी मंदिर के बीच एक वैकल्पिक रास्ते की शुरुआत की गई है।

रविवार को इस मार्ग को आम यात्रियों के लिए खोल दिया गया। हालांकि श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने 19 मई को औपचारिक रूप से इसका उद्घाटन कराने का ऐलान किया है। बता दें कि इस उद्घाटन से पहले जम्मू कश्मीर के राज्यपाल और श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड (एसएमवीएसबी) के अध्यक्ष एनएन वोहरा ने इस नए मार्ग से यात्रा की थी। इस दौरान राज्यपाल ने अधिकारियों के साथ मंदिर मार्ग पर चल रहे अन्य विकास कार्यों की समीक्षा भी की थी। राज्यपाल की इस यात्रा के बाद ही रविवार को इस मार्ग को आम यात्रियों के लिए खोल दिया गया।

19 मई को पीएम करेंगे औपचारिक उद्घाटन : इस नए रास्ते के बारे में बताते हुए एसएमवीएसबी के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी अंशुल गर्ग ने बताया कि 80 करोड़ रुपये की लागत से सात वर्ष में बने इस मार्ग को रविवार दोपहर श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया। प्रधानमंत्री 19 मई को औपचारिक रूप से इसका शुभारंभ करेंगे।

श्री गर्ग ने बताया कि इस मार्ग के निर्माण की शुरुआत साल 2011 में हुई थी, जिसके बाद इसे 7 साल में तैयार कर लिया गया। बता दें कि वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने इससे पूर्व अर्धकुवांरी मंदिर से माता वैष्णो देवी मंदिर के मुख्य भवन तक भी एक वैकल्पिक रास्ते का निर्माण कराया था। 

Copyright @ 2017.