स्वास्थ्य (22/05/2018) 
PAK की ओर से घरों को बनाया निशाना, एक महिला समेत बच्चे की मौत

जम्मू-कश्मीर में सरहद से सटे गांवों में पाकिस्तान बीते दिनों से गोलाबारी कर रहा है. बीएसएफ के मुंहतोड़ जवाब के बाद भी पाकिस्तानी रेंजर्स अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं..एलओसी से सटे अरनिया और आरएस पुरा सेक्टर के रिहाइशों इलाकों को भी निशाना बनाया जा रहा है.

एलओसी से सटे अखनूर के सेरी पल्ली गांव में पाकिस्तान की फायरिंग का शिकार एक मासूम भी हुआ. सात महीने के बच्चे को गोली लगने के बाद उसकी मौत हो गई है. जबकि 6 स्थानीय निवासी गंभीर रूप से हुए घायल हुए हैं.

पाकिस्तानी रेंजर्स ने जम्मू के हीरानगर, पनसार, मनयारी और चान लाल दीन इलाके में जबरदस्त फायरिंग की. जिसके बाद बीएसएफ की तरफ से मुंहतोड़ जवाब दिया गया है. जम्मू के अरनिया और आरएसपुरा सेक्टर में बॉर्डी की 5 किलोमीटर की सीमा के सभी स्कूल बंद रखे गए हैं.

पाक फायरिंग पर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने जवाब दिया है. उन्होंने कहा है कि पहले फायरिंग बीएसएफ नहीं करती है, लेकिन जवान जानते हैं कि कैसे जवाब देना है. उन्होंने ये भी कहा कि भारत की तरफ जो आंख उठा कर देखेगा, उसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता.

 

गोलीबारी के कारण ही सोमवार को अरनिया के आस-पास के 5 किमी. क्षेत्र के सभी स्कूलों को बंद किया गया था.

इससे पहले रविवार को पाकिस्तानी रेंजर्स ने बीएसएफ से फायरिंग रोकने की अपील की थी. उसकी यह अपील उस समय आई, जब बीएसएफ की जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के सियालकोट इलाके में कई लोग मारे गए थे. बीएसएफ ने  पाकिस्तान के कई बंकरों को तबाह कर दिया था. लेकिन वह अब फिर  सीजफायर का उल्लंघन करते हुए लगातार गोलाबारी कर रहा है और बेकसूरों को निशाना बना रहा है.

 

Copyright @ 2019.