12/07/2018   डॉ.उदित राज ने आज बादली और रोहिणी विधानसभा में जनता दरबार लगाया..

 डॉउदित राज ने आज बादली और रोहिणी विधानसभा में जनता दरबार लगायी बादली विधानसभा के लिबासपुर गाँव में पूर्व डिप्टी मेयर विजय भगतऔर कालीचरण के नेतृत्व में लगायी एवं रोहिणी के रॉयल भवन में पूर्व मेयर प्रीति अग्रवाल के नेतृत्व में लगायी गयी | लिबासपुर में जनता दरबार के दौरान मुख्य रूप से दिल्ली सरकार के प्रतिजनता में काफी रोष देखने को मिला | दोनों विधानसभाओं में जनता दरबार में 700 से अधिक लोग शामिल हुए जिसमे से मुख्य रूप से बिजलीपार्कों की साफ़सफाई और पानी से संबधित अधिकशिकायतें लेकर पहुँचे | जनता दरबार में जल बोर्डएमसीडीडीडीएबिजलीपीडब्ल्यूडीपुलिस एवं ट्रैफिक विभाग के अधिकारी मौजूद रहे.. इस दौरान सांसद डॉ. उदित राज ने कहा कि हम सब जनता के सेवक है और जनता ने हमे क्षेत्र का विकास करने के लिए चुना है | मैंने किसी भी विभाग के द्वारा की गयी लापरवाही परहमेशा कड़ा रुख अपनाया है .. यदि हम सबके रहते हुए भी जनता को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है तो इसके लिए हम सभी जिम्मेदार हैं | लिबासपुर में हमारी पार्टी का नेतृत्व नहीं है इस वजहसे यहाँ पर समस्याओं का जमावड़ा लगा हुआ है लेकिन मैं अपने प्रयास से अधिक से अधिक समस्याओं से जनता को निजात दिलाऊंगा...डॉ. उदित राज ने आगे सम्बोधित करते हुए कहा कि जनता दरबार लगाने का उद्देश्य दिखावा करना नही है बल्कि इसके माध्यम से जनता की समस्याओं का समाधान उनके द्वार पर आकरउनके सामने अधिकारियों की उपस्थिति में किया जाता है | यदि जनता दरबार में बुलाने के बावजूद भी कोई अधिकारी शामिल नही होता है तो उसके खिलाफ तुरंत कार्यवाही की जाती है | मैंने खुदमहसूस किया हैं कि कुछ समस्याओं का निराकरण तुरंत किया जा सकता है लेकिन कुछ अधिकारी समस्या के निराकरण में दिलचस्पीनही दिखाते है बल्कि उनकी दिलचस्पी जनता को बार बार दौड़ाने में रहती है | इसलिए उन अधिकारियों पर भी नज़र रखी जा रही है जो जनता का काम करने की बजाय टालते रहते हैं | मैं क्षेत्र में जनता दरबार के अतिरिक्त अपने दफ्तर टी 22, अतुल ग्रोवरोड, जनपथ पर भी जनता दरबार सप्ताह के पांच दिन लगाता हूँ वहां भी अपनी समस्या लेकर पहुँच सकते हैं |  दोनों विधानसभाओं में भाजपा के जिला उत्तर पश्चिम के पदाधिकारी, मंडल अध्यक्ष एवं सैकड़ों कार्यकर्त्ता शामिल हुए और कार्यक्रम को सफल बनाने में सहयोग दिया |   

Copyright @ 2017.