25/10/2018  दिल्‍ली में अवैध ई-रिक्शे की दौड़ ने बढ़ाई चिंता

दिल्ली में प्रदूषण लगातार खतरनाक स्थिति में बना हुआ है. राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के ऊपर प्रदूषण की चादर धीरे-धीरे मोटी होती जा रही है. प्रदूषण पर लगाम के लिए सरकार और अदालत की ओर से भी कई कड़े कदम उठाए गए हैं. वहीं पर्यावरण मामलों के जानकारों का कहना है कि दिल्ली-एनसीआर में ई-रिक्शा की वजह से लगने वाले जाम से भी प्रदूषण हो रहा है.

राइट टू ब्रीथ कैंपेन से जुड़े पर्यावरणविद संदीप का कहना है कि वैसे तो बैट्री रिक्शा से कोई हानिकारक उत्सर्जन नहीं होता लेकिन अवैध रिक्शों की बाढ़ की वजह से दिल्ली में करीब हर बाजारों में जाम लगता है. इस वजह से ई- रिक्शा प्रदूषण बढ़ाने की एक वजह भी बन जाते हैं.   


ई-रिक्शा से होने वाले दर्दनाक हादसे की वजह तभी दिल्ली हाईकोर्ट ने 31 जुलाई 2014 को ई-रिक्शा पर प्रतिबंध लगा दिया. वहीं जब सरकार को वोटबैंक का खतरा दिखाई दिया तो मार्च 2015 में संसद ने मोटर व्हीकल संशोधन कानून में बदलाव कर ई- रिक्शा को वैध बना दिया गया.

 

Copyright @ 2017.