अपराध (29/12/2018) 
दिल्ली पुलिस की परिक्षा देने आये दो मुन्ना भाई गिरफ्तार

नईदिल्ली,[अनमोल कुमार]- एमटीएस एग्जाम में दो लोगों को धोखाधड़ी के आरोप में पकड़ा गया है.. इनमें से एक असली कैंडिडेट तो दूसरा किसी और के बदले एग्जाम देने आया था.. असली कैंडिडेट परिक्षा हॉल के अंदर ब्लूटूथ डिवाइस से सवाल हल कर रहा था,तो वही दूसरा कैंडिडेट किसी और के बदले परिक्षा देने आया था.. धोखाधड़ी का यह मामला उत्तर-पूर्वी दिल्ली के सोनिया विहार थाना इलाके का है..पकड़े गए आरोपियों के नाम रजत यादव और प्रवीण कुमार बताया जा रहा है.. रजत, हिसार का रहने वाला है और प्रवीण कुमार सोनीपत का है.. पुलिस ने बताया कि वजीराबाद में एक सेंटर पर दिल्ली पुलिस में मल्टी टास्किंग सर्विसेज के तहत नाई, धोबी और साफ-सफाई करने वाले कर्मचारियों की भर्ती के लिए परिक्षा चल रही था..परिक्षा अभी शुरू ही हुई थी कि इंविजिलेटर बने दिल्ली पुलिस के एक एएसआई सुशील कुमार को एग्जाम में बैठे एक कैंडिडेट रजत यादव पर  उन्हें उस पर संदेह हुआ, उससे पूछताछ की गई तो उसने अपने पास किसी गैजेट होने से इनकार किया..उसकी तलाशी ली गई तो उसके पास एक मोबाइल फोन और एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस मिली जांच में पता लगा कि वह ब्लूटूथ के जरिए पेपर सॉल्व करने की कोशिश कर रहा था। वही दूसरा कैंडिडेट प्रवीण कुमार को पकड़ा गया उसे भी शक के आधार पर पकड़ा गया ,जब कागजात की जांच की गई तो पता लगा कि यह सोनीपत के ही रहने वाले कैंडिडेट अनिल की जगह पर पेपर दे रहा था... उसे इंविजिलेटर बने दिल्ली पुलिस के एएसआई शिवपाल ने पकड़ा..यह असली कैंडिडेट का दोस्त था...इसके लिए दस्तावेजों में कुछ छेड़छाड़ भी की थी।

 

Copyright @ 2019.