राष्ट्रीय (11/04/2019) 
राष्ट्रीय ख्याति के अम्बिका प्रसाद दिव्य स्मृति प्रतिष्ठा पुरस्कार घोषित ।

भोपाल। विगत इक्कीस वर्षों से प्रदान किये जाने वाले राष्ट्रीय ख्याति के अम्बिका प्रसाद दिव्य स्मृति प्रतिष्ठा पुरस्कारों की घोषणा 31 मार्च 2019 को साहित्य सदन 145 ए साईंनाथ नगर , सी सेक्टर , कोलार रोड , भोपाल के पुरस्कार संयोजक श्री जगदीश किंजल्क ने की । देश के कोने – कोने से दो सौ आठ पुस्तकें प्राप्त हुई थीं । 

इक्कीस सौ रुपये राशि का दिव्य पुरस्कार उपन्यास विधा के लिये श्री प्रबोध कुमार गोबिल (जयपुर) के उपन्यास “ अकाब “ को तथा सुश्री रेणुका अस्थाना (अलवर ) को उनके कहानी संग्रह “ कालिंजर ” डा. प्रदीप उपाध्याय ( देवास ) को व्यंग्य संग्रह “सठियाने की देहलीज पर “ डा. कृष्ण शंकर शर्मा “अचूक” ( जयपुर )को काव्य संग्रह “ नदी उफान भरे ” श्री चक्रधर शुक्ल ( कानपुर ) को “ दादी की प्यासी गौरइया “ (बाल साहित्य ) डा. पद्मासिंह ( इंदौर ) को, आत्मज्ञान में जगत दर्शन ( निबन्ध संग्रह के लिये दिया जायेगा । गुणवत्ता के क्रम में द्वितीय तृतीय स्थान पर आने वाली पुस्तकों को दिव्य प्रशस्ति पत्र प्रदान किये जायेंगे । इस क्रम में श्रेष्ठ बाल कथाएँ – श्री शराफत अली खान ( बरेली ) “समय का सच” कहानी संग्रह- श्रीमती मधु ( जयपुर ) –“ एक लोहार की “ ( कथा संग्रह ) श्री घनश्याम शर्मा मैथिल “ अमृत “( भोपाल ) धारा 370 मुक्त कश्मीर ( निबन्ध संग्रह ) , डा. सुभ्रदा मिश्र ( गोवा ) मन कितना बीत राग ( निबन्ध संग्रह ) श्री पंकज त्रिवेदी ( दिल्ली) , “ देश समाज और संस्कृति “ – श्री चन्दर सोनाले (इंदौर ), “ मोरे अवगुण चित न धरौ “ ( व्यंग्य संग्रह ) श्री आशीष दशोत्तर ( रतलाम ) , “ बीज सफर में “(काव्य संग्रह )- कुमारी आफरीन ( मुरादाबाद ) , “जिस्म रोटी का नंगा होता है “ (गजल संग्रह) – डा. स्वदेश भटनागर ( मुरादाबाद ), “सवालों की दुनिया “ ( गजल संग्रह ) डा कृष्ण बक्षी ( गंज बसौदा ) “ये बात और है” (नव गीत संग्रह ) श्री नरेन्द्र श्रीवास्तव ( गाडरवाडा ) “अजनवी शहर में” – श्रीमती गिरजा कुलश्रेष्ठ “ चारों ओर कुहासा “( काव्य ) श्री रघुवीर शर्मा ( खंडवा )” कौन दिलों की जाने “ ( उपन्यास ) श्री लाजपतराय गर्ग ( हरियाणा) पडाव ( उपन्यास ) श्रीमती लक्ष्मी तिवारी ( आस्ट्रेलिया ) को दिव्य प्रशस्ति – पत्र प्रदान किये जायेंगे । 
इस वर्ष के निर्णायक मंडल के सदस्य थे श्री परशुराम शुक्ल , प्रो. आनन्द प्रकाश त्रिपाठी , श्री सयंक श्रीवास्तव , श्री प्रियदर्शी खैरा , श्रीमती विजयलक्ष्मी विभा , श्री राधेलाल विजयाघले , श्री किशन तिवारी , श्री राजेन्द्र नागदेव , श्री प्रभुदयाल मिश्र , श्री घनश्याम सक्सेना , श्री जगदीश किंजल्क एवं श्रीमती राजो किंजल्क । 

Copyright @ 2019.