राष्ट्रीय (21/04/2019) 
केन्द्र सरकार ने 1.53 करोड़ परिवारों को पक्की छत वाला घर, शौचालय, गैस, बिजली-पानी के साथ दिया है-त्रिवेन्द्र सिंह रावत
नई दिल्ली, 21 अप्रैल। फिर एक बार मोदी सरकार के संकल्प के साथ भारतीय जनता पार्टी दिल्ली प्रदेश पर्वतीय प्रकोष्ठ ने आज प्रदेश कार्यालय पर पर्वतीय सम्मेलन का आयोजन किया। इस पर्वतीय सम्मेलन को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व दिल्ली के प्रभारी श्याम जाजू ने संबोधित किया। दीप प्रज्वलन के साथ शुरू हुए कार्यक्रम में भारत माता की जय और मोदी है तो मुमकिन है के शंखनाद से गूंजायमान हुआ प्रदेश कार्यालय। पर्वतीय प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक अर्जुन सिंह राणा ने इस सम्मेलन की अध्यक्षता की। कार्यक्रम में प्रदेश संगठन महामंत्री श्री सिद्धार्थन, प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक मोहन सिंह बिष्ट, पर्वतीय प्रकोष्ठ के प्रभारी श्याम लाल, सह-प्रभारी विनोद बछैती, भाजपा मयूर विहार जिला अध्यक्ष ललित जोशी, पूर्व महापौर नीमा भगत, निगम पार्षद  नीता बिष्ट सहित पर्वतीय प्रकोष्ठ के सभी पार्षद व सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

सम्मेलन को संबोधित करते हिए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि हम लोकसभा चुनाव की तैयारीयों पर चर्चा  के लिए एकत्र हुये है। कुछ ऐसी बाते होती हैं जिससे नेतृत्व आगे बढ़ता है और जनता की  विश्वसनीयता बढ़ती है। पांच साल पहले 2014 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर जनता ने विश्वास किया और जब वो लोकतंत्र के मन्दिर में पहुंचे तो उन्होने प्रणाम कर कहा कि जनता के हितों के लिए सभी कार्यों का निर्वहन करूगां ना खाऊंगा और न खाने दुंगा। आर्थिक रूप से कमजोर लाखो लोगों के पास सर पर छत नहीं है उनके समग्र कल्याण ही भाजपा सरकार की प्राथमिकता होगी। मोदी जी ने अपने शपथ ग्रहण में विश्व के उन राष्ट्रध्यक्षों को बुलाया जिससे भारत की मित्रता विश्व में उसको विशिष्ट पहचान दिलाती है। भारत अंतर्राष्ट्रीय पटल पर प्रतिष्टित होकर विश्व गुरू बनने की ओर अग्रसर है और इसका श्रेय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जाता है। पांच सालों में भाजपा सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की भ्रष्टाचार पर जीरो टोलरेन्स की नीति पर भाजपा शासित सभी राज्य काम कर रहे है।

 त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि मोदी जी ने गरीबी को महसूस किया उसे झेला है। गरीब के लिए तीन चीजे महत्वपूर्ण है  घर, सस्ता राशन, नुन तेल लकड़ी। केन्द्र सरकार ने 1.53 करोड़ परिवारों को पक्की छत वाला घर, शौचालय, गैस, बिजली-पानी के साथ दिया है। महंगाई का 17 सालों का रिकोर्ड टूटा है देश के गरीब का उत्थान हमारी जिम्मेदारी है। कांग्रेस की सरकार ने 55 सालों में 12 करोड़ गैस कनेक्शन लोगो को दिये जबकि 55 महिने की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने 13 करोड़ गैस कनेक्शन देकर माताओं बहनों को धुएं भरी जिन्दगी से छुटकारा दिलाया। 2014 में भारत अर्थव्यवस्था में 11 वें स्थान पर था जो अब 2019 में 6 वें स्थान पर आ गया है। सम्मान के साथ जिने के लिए मजबूत देश चाहिए और मजबूत सरकार चाहिए। देश को 2014 के समान ही पूर्ण बहुमत की सरकार चाहिए जिसका नेतृत्व मोदी जी करे जिनके निर्णय लेने की क्षमता व शक्ति को आज विश्व मानता है। राजनीति में रिफोर्मस लाने  का काम, वन नेशन वन टैक्स जीएसटी एयर व सर्जिकल स्ट्राईक प्रधानमंत्री की इच्छाशक्ति का परिणाम है। आज हम इतने सशक्त है कि देश पर अंतरिक्ष से यदि कोई बुरी नजर डालता है तो 3 मिनट में हमारे वैज्ञानिकों की क्षमता के कारण उसे मारा जा सकता है।

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व दिल्ली के प्रभारी  श्याम जाजू ने कहा कि त्रिवेन्द्र रावत जमीन से जुड़े मुख्यमंत्री है उन्हें लोगों की मूलभूत समस्याओं का पता है और उस पर काम करके उन्होनें उत्तराखण्ड को अग्रिणी राज्य बना दिया है। उत्तराखण्ड सरकार ने राज्य में केन्द्र सरकार की जनकल्याणकारी योजना आयुष्मान भारत को जनता के हितों के लिए पूर्ण रूप से लागू किया। आयुष्मान भारत योजना को दिल्ली में रोककर  केजरीवाल दिल्ली की जनता के शत्रु बन बैठे है। उत्तराखंड के वासियों ने पिछले दिनों वहां 5 सीटों पर अपना मत प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने के लिए दिया है उसी तरह दिल्ली में रह रहे देवभूमि उत्तराखंड के वासी 12 मई को मोदी जी को पीएम बनाने के लिए अपना मत देने का संकल्प यहां से लेकर जायेंगे।

 श्याम जाजू ने मंच से दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर भी निशाना साधा और कहा कि अरविंद केजरीवाल द्वारा दिल्ली की जनता को पीएम मोदी द्वारा शुरू की गई आयूष्मान योजना से वंचित करना उनकी असंवेदनशीलता को दर्शाता है। वे बताएं कि क्या लोग बीमार नहीं होते। क्या यहां के लोग अस्पताल नहीं जाते। क्या दिल्ली में गरीब नहीं है, लेकिन केजरीवाल ने इसलिए रोक दिया क्योंकि मोदी जी की योजना है। दूसरी ओर उत्तराखंड में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने तुरंत लागू कर दिया। आज उत्तराखंड में 10 लाख लोग उसका लाभ ले रहे हैं। इसलिए उत्तराखंड ने तो मोदी जी को पीएम बनाने के लिए अपनी मुहर लगा दी है। अब दिल्ली में रह रहे उत्तराखंडियों की बारी है। दिल्ली की सातों सीटें जीताकर प्रधानमंत्री को पूर्ण बहुमत की मजबूत सरकार देने की।
Copyright @ 2019.