राष्ट्रीय (05/06/2019) 
विधानसभा का स्वीच आज आॅन हो गया है और 65 सीटें जीतकर कार्यकर्ता भाजपा की छोली में डालने के बाद ही अब विश्राम लेंगे-रामलाल

नई दिल्ली, 5 जून। भारतीय जनता पार्टी की लोकसभा में भारी जीत के बाद कार्यकर्ताओं का धन्यवाद देने के लिए प्रदेश कार्यालय में दिल्ली भाजपा अध्यक्ष  मनोज तिवारी की अध्यक्षता में मासिक बैठक बुलाई गई जिसमें कार्यकर्ताओं ने बिना विश्राम किये दिल्ली में होने वाले विधानसभा चुनाव की जीत को पार्टी की झोली में डालने का संकल्प लिया। कार्यक्रम में राष्ट्रीय संगठन महामंत्री  रामलाल, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं दिल्ली प्रभारी  श्याम जाजू, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष  दुष्यंत गौतम, राष्ट्रीय मंत्री एवं सह-प्रभारी  तरूण चुघ, राष्ट्रीय मंत्री  महेश गिरी, केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. हर्ष वर्धन, लोकसभा सह-प्रभारी  जयभान सिंह पवैया, नेता प्रतिपक्ष  विजेन्द्र गुप्ता, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष  विजय गोयल,  मांगे राम गर्ग,  सतीश उपाध्याय, सांसद  रमेश बिधूड़ी, प्रदेश संगठन महामंत्री  सिद्धार्थन, महामंत्री  कुलजीत सिंह चहल,  रविन्द्र गुप्ता सहित विधायक, महापौर, प्रदेश, जिला एवं मोर्चा पदाधिकारी, मंडल अध्यक्ष, महामंत्री, कोषाध्यक्ष, निगम पार्षदों, प्रकोष्ठ, विभाग, प्रकल्प के पदाधिकारी उपस्थित थे।

राष्ट्रीय संगठन महामंत्री  रामलाल ने कहा कि चुनाव जीतने के लिए चुनाव प्रबंधन टीम, कार्यकर्ता और नेता का करिश्माई व्यक्तित्व अहम भूमिका निभाता है। दिल्ली के संदर्भ में उन्होंने कहा कि विधानसभा का स्वीच आज आॅन हो गया है और 65 सीटें जीतकर कार्यकर्ता भाजपा की छोली में डालने के बाद ही अब विश्राम लेंगे। राहुल गांधी झूठा है और केजरीवाल धोखा है के नारों की गूंज के साथ उन्होंने कहा कि दिल्ली वालों को केजरीवाल पर भरोसा नहीं है क्योंकि केजरीवाल झूठ, फरेब की राजनीति करते हैं जबकि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी जनता के भरोसे की राजनीति करते हैं। दिल्ली में दोनों सरकारें एक जैसी होंगी तो मिलकर 2022 तक दिल्ली के गरीबों को पक्का के साथ आयुष्मान भारत योजना तत्काल प्रभाव से लागू कर दी जायेगी। सदस्यता अभियान को दोगुना करने की प्रदेश नेतृत्व की सलाह देते हुये कहा कि कार्यकर्ताओं को घर-घर जाकर सदस्य बनाने की जरूरत है और इस बात पर ध्यान देने की जरूरत है कि जिन क्षेत्रों में हमारे सदस्यों की संख्या कम है वहां व्यापक सदस्य बनाने की जरूरत है। केजरीवाल सत्ता में आने की लालसा रखते हैं क्योंकि उन्हें सत्ता में रहकर सुख भोगना होता है जबकि भाजपा सत्ता को सेवा समझकर काम करती है।

 श्याम जाजू ने कहा कि केजरीवाल ने सत्ता में आने से पहले जो भी वादा किया था उसमें से एक भी पूरा नहीं किया। दिल्ली के मतदाता समझदार हैं इसलिये सोच समझकर मदतान करते है। लोकसभा चुनाव में यह साबित हो गया है कि दिल्ली के लोग भारतीय जनता पार्टी के साथ हैं, आम आदमी पार्टी का जो स्थान था दिल्ली के लोगों ने उसे वहां पहुंचा दिया। उन्होंने कहा कि चुनाव चमक-दमक या झूठे वादे करने से नहीं जीता जाता बल्कि कार्यकर्ताओं के अथक परिश्रम और नेताओं की रणनीति से जीता जाता है। आगामी विधानसभा चुनाव में लोकसभा की तरह ही दिल्ली में भी भगवा लहराने वाला है। इसकी शपथ आज हर कार्यकर्ता यहां से लेकर जायेगा।

 मनोज तिवारी ने कहा कि हम 2014 जीते, 2017 जीते और कार्यकर्ताओं ने 2019 के चुनावों को भी जीत लिया है लेकिन बीते 20 बरस से सत्ता के बाहर दिल्ली में बैठी भाजपा हम सब के लिए एक वनवास की तरह हैं। 15 वर्ष तक कांग्रेस के कुशासन ने भ्रष्टाचार के कई आयाम लिखें तो पिछले 53 महीने से दिल्ली में एक बड़ा थीथर सरकार का मुखिया है। एक ऐसी सरकार का मुखिया जो झूठ की बुनियाद पर बनी है दिल्ली की जनता ने झूठ और बहकावे में आकर केजरीवाल को मुख्यमंत्री बनाया कि दिल्ली को बेहतर सुविधाएँ मिलेंगी लेकिन इतिहास की सबसे मजबूत सरकार के सबसे और निकम्मे मुख्यमंत्री साबित हुए हैं। केजरीवाल हर रोज झूठ और अपने कुकर्मों से दिल्ली को एक नया दर्द देने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हर रोज एक नया झूठ केजरीवाल जनता के बीच परोस रहे हैं, जब उन्हें सत्ता संभाली थी तो दिल्ली में 6800 सरकारी बसें थीं जो घटकर 38 00 के करीब रह गई हैं। जबकि दिल्ली की जरूरत इससे कहीं अधिक है और अब मुफ्त सफर का झाँसा देकर केजरीवाल एक बार फिर सत्ता में जाना चाहते हैं हम सब कार्यकर्ताओं ने मिलकर ने 21 वर्ष का वनवास समाप्त कर 2020 में दिल्ली में राम राज कामय करना है।

भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री  सिद्धार्थन ने उपस्थित कार्यकर्ताओ के समक्ष सांगठनिक व्रत रखते हुए कहा कि पार्टी के हर स्तर के कार्यकर्ताओं ने अथक परिश्रम किया और पार्टी को प्रचंड बहुमत दिलवाया। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं के परिश्रम के दम पर हमने सातों सीटें जीतीं लेकिन अगर और बारीकी से देखें तो कार्यकर्ताओं के दम पर भारतीय जनता पार्टी ने विधानसभा की 70 में  से 65 सीटों पर विजय हासिल की। दिल्ली की 68 विधानसभाओं के 272 वार्डों में से 262 वार्डों पर जीत का परचम फहराया इसके साथ नई दिल्ली एवं दिल्ली कैन्ट विधानसभा में भाजपा की जीत हुई। पहली बार दिल्ली की 500 झुग्गी बस्तियों को गोद लेकर कार्यकर्ताओं ने दिन रात मेहनत की और उसमें से 400 झुग्गी बस्तियों में भारतीय जनता पार्टी का कमल खिला। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ साथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवकों का भी योगदान भुलाया नहीं जा सकता। जिन्होंने 15000 से अधिक बैठक कर भाजपा की जीत को एक ठोस आधार दिया है। 25 लाख घरों में संपर्क कर पार्टी को मजबूत करने में अतुलनीय योगदान दिया।

 जयभान सिंह पवैया ने कहा कि दिल्ली के कार्यकर्ताओं जैसे मेहनती और देवतुल्य कार्यकर्ता पूरे देश में हमने कहीं नहीं देखे जिन्होंने बिना थके मेहनत से दिल्ली में इतिहास रच दिया और इस चुनाव का मेरा अनुभव यह कहता है कि दिल्ली के कार्यकर्ता 2020 में अपनी मेहनत से प्रचंड बहुमत से विजय का इतिहास लिखेंगे और जीत का कीर्तिमान स्थापित करेंगे।

 

Copyright @ 2019.