राष्ट्रीय (05/06/2019) 
विश्व पर्यावरण दिवस पर यमुना प्रहरियों ने दिया रचनात्मक सन्देश
दिल्ली।विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय राजधानी के आईटीओ स्थित छठ घाट पर यमुना प्रहरियों ने रचनात्मक तरीके से पर्यावरण की स्वच्छ्ता व संरक्षण का सन्देश दिया।इस दौरान ईस्कान संस्था ने सस्मृति चिन्ह स्वरूप श्रीमद भगवतगीता भेंट की।
वृक्षारोपण के साथ शुरू हुए इस कार्यक्रम में मुख्यातिथियों व गणमान्य लोगों के सम्बोधन, विचार व चिन्ता के बाद यमुना की अविरलता व स्वच्छता पर योजना बनाने का संकल्प लिया गया।यमुना को कचरामुक्त मुक्त बनाने के निमित्त विगत 2013 से रीवर डॉक्टर के नाम से प्रसिद्ध डॉ विवेक दीक्षित की अगुवाई में स्वच्छ यमुना अभियान के तहत प्रयासरत यमुना प्रहरियों के सक्रिय प्रयासो की भूरि भूरि प्रशंसा कर उन्हें बधाई दी गयी।यमुना प्रहरियों का सक्रिय सहयोग करने वाले स्थानीय नगर निगम की भूमिका की सराहना के साथ घाट पर रचनात्मक श्रमदान कर यमुना प्रहरियों ने यमुना नदी व छठ घाट को स्वच्छ किया।इस पूरे कार्यक्रम में पॉलिथीन का रत्ती भर उपयोग न कर लोगो की प्रेरणा बने आयोजको की उपस्थित जनसमूह ने जमकर तारीफ की।इस्कान संस्था के सौजन्य से संकीर्तन मंडली ने अपनी प्रस्तुतियो से कार्यक्रम को भक्तिमयी बना दिया।डॉ अरुण पांडेय ने कविता पाठ कर उपस्थित जनसमूह को मंत्रमुग्ध किया।पर्यावरण जागरूकता के इस कार्यक्रम का समापन यमुनाष्टकम के श्लोकों के साथ किया गया।इस दौरान सूक्ष्म जलपान की व्यवस्था भी की गई थी।अतिथियों का स्वागत वर्षो से यमुना नदी को स्वच्छ करने के लिए प्रयासरत प्रसिद्ध रीवर डॉ विवेक दीक्षित ने बेहद स्नेही अंदाज में किया।
उक्त कार्यक्रम को भाजपा सांसद जगदम्बिका पाल, इस्कॉन संस्था के अंतर्राष्ट्रीय प्रचार निदेशक युधिष्ठिर गोबिंद दास, विक्रम नेशन की पूर्णिमा आनन्द, एलेक्जेंडर, द्वारिका, नई दिल्ली उपाध्यक्ष अमोघ लीला दास, प्रशांत मुकुंद दास, स्वच्छ यमुना अभियान के रीवर डॉक्टर विवेक दीक्षित, तराई वेलफेयर एसोसिएशन के विवेक श्रीवास्तव आदि ने सम्बोधित कर अपने विचार रखे।इस अवसर पर एम्स हॉस्पिटल के डॉ विजय कुमार, डॉ अरुण पांडेय, डॉ प्रेम शंकर, डॉ अंशुल, डॉ देव सिंह, डॉ सोनू त्यागी, डॉ गजेंद्र व तराई वेलफेयर एसोसिएशन सदस्यों, यूनाइटेड नेशन के प्रतिनिधियों आदि ने श्रमदान कर कार्यक्रम में रचनात्मक सक्रियता दर्ज कराई।
Copyright @ 2019.