राष्ट्रीय (10/06/2019) 
दिल्ली की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी गृहमंत्री एक बैठक करें : गोपाल राय

सोमवार को एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के दिल्ली प्रदेश संयोजक एवं कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने कहा, कि देश में दोबारा से भाजपा की सरकार बनी है, और एक बार फिर दिल्ली की जनता ने सातों लोकसभा सीट पर भाजपा के सांसदों को जीता कर संसद में भेजा। परंतु दिल्ली में कानून व्यवस्था जस की तस है। अपराधियों के हौसले और बुलंद होते जा रहे हैं। कानून व्यवस्था में कोई सुधार नहीं हुआ है।

परसों रात एबीपी न्यूज़ चैनल के पत्रकारों की गाड़ी पर हुए हमले का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि रात में 1:30 बजे पत्रकारों की गाड़ी पर संदिग्ध लोगों द्वारा फायरिंग की जाती है। डेढ़ किलोमीटर उनकी गाड़ी का पीछा किया गया। जब पत्रकारों ने 100 नंबर पर कॉल करके इसकी शिकायत की तो 2 घंटे बाद पुलिस वारदात की जगह पर पहुंचती है, और पहुंचने के बाद पीसीआर वैन कोई संतोषजनक कार्यवाही नहीं करती, केवल कुछ फोटो खींच कर पीसीआर वैन वहां से निकल जाती है।

दिल्ली के अंदर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर आज से पहले भी लगातार सवाल उठते रहे हैं और आज केंद्र में भाजपा की सरकार दोबारा बन जाने के बावजूद भी हालातों में किसी भी प्रकार के कोई बदलाव नहीं हुए हैं।

दिल्ली की सातों सीटों पर भाजपा के सांसद हैं। यह सांसद जिला स्तरीय पुलिस कमेटी के अध्यक्ष होते हैं। ना ही तो एक भी सांसद की ओर से और ना ही गृह मंत्री की ओर से, अभी तक, कोई भी आश्वासन देने वाला बयान दिल्ली की जनता को मिला है, और ना ही अभी तक किसी की गिरफ्तारी हुई। केंद्र सरकार और उसके अधीन आने वाली दिल्ली की पुलिस, सभी लोग मूकदर्शक बने बैठे हैं। जब देश में कौन पत्रकारों के ऊपर हमले हो रहे हैं जो जनता की आवाज को उठाते हैं, तो एक आम नागरिक की स्थिति दिल्ली में क्या होगी, यह इस घटना के माध्यम से समझा जा सकता है।

मीडिया के माध्यम से गोपाल राय ने केंद्र सरकार के समक्ष दो मांग रखी जो कि निम्न प्रकार से हैं....

1) जल्द से जल्द दोषियों की गिरफ्तारी की जाए।

2) देश के गृहमंत्री दिल्ली की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी एक समीक्षा बैठक करें।

क्योंकि दिल्ली देश की राजधानी है और देश के कोने-कोने से आकर यहां लोग बसते हैं। यह सोच कर कि दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था बेहतर होगी और हर नागरिक बिना किसी डर के अपने कामकाज कर सकते हैं। देश की जनता के इस विश्वास को बनाए रखने के लिए गृह मंत्री जी दिल्ली की सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा करें और दिल्ली में रहने वाले लोगों की सुरक्षा को सुनिश्चित करें।

Copyright @ 2019.