राष्ट्रीय (05/07/2019) 
जल सुरक्षा तथा स्वच्छ भारत पर भी विस्तार।
  • भारत में जल सुरक्षा

o   नया जल शक्ति मंत्रालय एक समन्वित और समग्र रूप से हमारे जल संसाधनों और जल आपूर्ति के प्रबंधन की देखरेख करेगा।

o   जल जीवन मिशन के तहत वर्ष 2024 तक सभी ग्रामीण परिवारों के लिए हर घर जल (पाइप द्वारा जल आपूर्ति) के लक्ष्य को पूरा किया जाएगा।

o   स्थानीय स्तर पर जल की मांग और आपूर्ति पर आधारित प्रबंधन पर जोर दिया जाएगा।

  • इसके लक्ष्य तक पहुंचने के क्रम में केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं को एक साथ मिलाया जाएगा।

o   जलशक्ति अभियान के लिए 256 जिलों के 1592 खंडों की पहचान की गई है।

o   इस उद्देश्‍य के लिए क्षतिपूर्ति वन्‍यकरण निधि प्रबंधन और योजना प्राधिकरण निधि का उपयोग किया जा सकता है।

·         स्‍वच्‍छ भारत अभियान

o   2 अक्‍तूबर 2014 से 9.6 करोड़ शौचालयों का निर्माण किया गया।

o   5.6 लाख से अधिक गांव खुले में शौच से मुक्‍त(ओडीएफ) हुए।

o   प्रत्‍येक गांव में सतत ठोस अपशिष्‍ट प्रबंधन चलाने के लिए स्‍वच्‍छ भारत मिशन का विस्‍तार किया जाएगा।

·         प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान

o   दो करोड़ से अधिक ग्रामीणों को डिजिटली रूप से साक्षर बनाया गया।

o   ग्रामीण और शहरी भेद को दूर करने के लिए भारत नेट के तहत प्रत्‍येक पंचायत में स्‍थानीय निकायों को इंटरनेट कनेक्टिविटी दी जा रही है।

o   पीपीपी प्रबंध के तहत वैश्विक दायित्‍व निधि का भारत नेट को गति प्रदान करने में उपयोग किया जाएगा।

·         शहरी भारत/अर्बन इंडिया

·         प्रधानमंत्री आवास योजना –शहरी(पीएमएवाई-अर्बन)

o   लगभग 81 लाख घरों के निर्माण के लिए 4.83 लाख करोड़ रुपये के निवेश को मंजूरी दी गई। इनमें 47 लाख घरों में निर्माण कार्य शुरू हुआ।

o   26 लाख से भी अधिक घरों का निर्माण पूरा हुआ और लगभग 24 लाख घर लाभार्थियों को सौंपे गए।

o   नई प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुए अभी तक 13 लाख से भी अधिक घरों का निर्माण हुआ।

·         95 प्रतिशत से अधिक शहरों को भी खुले में शौच से मुक्‍त घोषित किया गया।

·         लगभग एक करोड़ नागरिकों ने स्‍वच्‍छता एप्‍प डाउनलोड किया है।

·         2 अक्‍तूबर 2019 तक भारत को ओडीएफ बनाने के लिए गांधी जी के स्‍वच्‍छ भारत के संकल्‍प को अर्जित करने का लक्ष्‍य

o   इस अवसर के उपलक्ष्‍य में 2 अक्‍तूबर 2019 को गांधी दर्शन, राजघाट में राष्‍ट्रीय स्‍वच्‍छता केन्‍द्र का उद्घाटन किया जाएगा।

o   युवाओं और समाज को सकारात्‍मक गांधीवादी मूल्‍यों के प्रति संवेदनशील बनाने के लिए राष्‍ट्रीय विज्ञान संग्रहालय परिषद द्वारा गांधी पीडिया का विकास किया गया है।

·         रेलवे को दिल्‍ली–मेरठ मार्ग पर प्रस्‍तावित रेपिड रीजनल ट्रांसपोर्ट सिस्‍टम(आरआरटीएस) जैसे एसटीवी निर्माणों के माध्‍यम से उपशहरी रेलवे में अधिक निवेश के लिए प्रोत्‍साहित किया जा रहा है।

·         निम्‍न के द्वारा मेट्रो रेलवे के प्रयासों को बढ़ाने का प्रस्‍ताव है-

o   अधिक से अधिक पीपीपी पहलों को प्रोत्‍साहित करना।

o   स्‍वीकृत कार्य निश्चित रूप से पूरे करना।

o   ट्रांजिट केन्‍द्रों के आसपास व्‍यापारिक गतिविधियां सुनिश्चित करने के लिए सहायक ट्रांजिट जनित विकास (टीओडी)

Copyright @ 2019.