राष्ट्रीय (06/07/2019) 
पूर्वी निगम विद्यालयों में बच्चें करेंगे डिजिटल शिक्षण पाठ्यक्रम के माध्यम से पढ़ाई

पूर्वी दिल्ली नगर निगम के विद्यालयों में अब बच्चे डिजिटल शिक्षण सामग्री के माध्यम से रोचक, मज़ेदार एवं संवादात्मक तरीके के पढ़ाई कर सकेंगे। बात दें कि विश्व स्तरीय कंपनी 'अर्नेस्ट एन्ड यंग फाउंडेशन' द्वारा कॉर्पोरेट सोशल रेस्पोंसिबिलिटी के अंतर्गत प्राथमिक  स्तर पर पढ़ने वाले बच्चों के लिए विशेष रूप से तैयार किये गए डिजिटल पाठ्यक्रम को पेन ड्राइव के माध्यम से पूर्वी दिल्ली नगर निगम को निःशुल्क हस्तांतरित किया गया है। 32 जी बी की इस पेन ड्राइव में हिंदी एवम अंग्रेज़ी दोनों भाषाओं में रोचक रूप से ध्वनियों और दृश्यों के माध्यम से ये पाठ्यक्रम तैयार किया गया है। पूर्वी दिल्ली नगर निगम के सभागार में आयोजित कार्यक्रम में अर्नेस्ट एन्ड यंग फाउंडेशन कंपनी द्वारा 240 पेन ड्राइव पूर्वी निगम को सौंपी गई हैं। इस मौके पर शिक्षा विभाग के निदेशक, लैफ्टिनेंट कर्नल अशोक कुमार, अर्नेस्ट एन्ड यंग फाउंडेशन के कार्यकारी अधिकारी,  उमेश दुबे सहित पूर्वी निगम विद्यालयों से आये प्रधानाचार्य एवं शिक्षक भी उपस्थित थे।

 

इस अवसर पर शिक्षा विभाग के निदेशक, लैफ्टिनेंट कर्नल अशोक कुमार ने बताया कि डिजिटल शिक्षा कई अंतर्राष्ट्रीय स्कूलों के साथ-साथ भारत की पारंपरिक शिक्षा प्रणाली में अपनी जगह बना रही है। उन्होंने बताया कि डिजिटल शिक्षा के जरिए कक्षाओं का शिक्षण अधिक मजेदार होगा क्योंकि इसमें बच्चे इस  न केवल इसे सुनेंगे, बल्कि इसे स्क्रीन पर भी देखेंगे, जिससे उनके सीखने की क्षमता में निश्चित रूप से काफी इजाफा होगा।  अशोक ने बताया कि पूर्वी दिल्ली नगर निगम के सभी स्कूलों में ये पेन ड्राइव वितरित की जाएंगी ताकि बच्चे डिजिटिलाइज पाठ्यक्रम का ज़्यादा से ज़्यादा लाभ उठाएं।

        'अर्नेस्ट एन्ड यंग  फाउंडेशन' के कार्यकारी अधिकारी,  उमेश दुबे ने कहा कि पूर्वी निगम को सौपीं गयी ये पेन ड्राइव वायरस रहित हैं और इसकी 5 वर्षों की वारंटी हैं। उन्होंने बताया कि विशेषकर बच्चों के लिए तैयार इस पाठ्यक्रम को `टून मस्ती' का नाम दिया गया है।   दुबे ने बताया कि इस पाठ्यक्रम में सक्रिय ऑनलाइन स्क्रीन की सहायता से छात्र अपनी भाषा कौशल में सुधार कर लेते हैं। 

 

Copyright @ 2019.