राष्ट्रीय (15/07/2019) 
पत्रकार स्व.उमेश डोभाल 29वा स्मृति समारोह सम्पन्न।
हरिद्वार, 15 जुलाई। गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के भारतीय इतिहास विभाग के सभागार मे 13 व 14 जुलाई 
को 29वा उमेश डोभाल स्मृति समारोह का भव्य आयोजन सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम मे उत्तराखंड, उत्तरप्रदेश, दिल्ली इत्यादि राज्यो के पत्रकार व समाज के विभिन्न जनसरोकारों से जुड़े प्रबुद्ध लोगों ने धर्मनगरी हरिद्वार आकर स्व.उमेश डोभाल को श्रद्धाजंलि दी।आयोजित परिचर्चा मे उनके कृतित्व व व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला।

1988 मे शराब माफियाओं ने प्रखर पत्रकार उमेश डोभाल की हत्या कर दी थी। उत्तरप्रदेश व दिल्ली मे इस जघन्य हत्याकाण्ड पर पत्रकारों के साथ-साथ समाज के विभिन्न वर्गों ने मिलजुल कर बड़े आंदोलन व रैलियां निकाल हत्या की निंदा की थी। इसी याद मे उमेश डोभाल ट्रस्ट बनाया गया, जो विगत 28 वर्षों से पत्रकारिता, जनसरोकारों, साहित्य, कला, रंगकर्म आदि विषयो से जुड़े लोगो के सहयोग से समसामयिक और अन्य मुद्दों पर विचार-विमर्श/परिचर्चा करते हैं। विविध क्षेत्रो मे जनसरोकारी कार्य करने वालों को ट्रस्ट द्वारा प्रतिवर्ष सम्मानित व पुरष्कृत किया जाता है।

13 व 14 जुलाई को धर्म नगरी हरिद्वार मे आयोजित हुए 29वे उमेश डोभाल स्मृति समारोह का श्री गणेश 13 जुलाई को मुख्य अतिथि गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के कुलपति वी के शर्मा, कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे उत्तराखंड संस्कृत महाविद्यालय हरिद्वार के देवी प्रसाद त्रिपाठी, डॉ दिनेश चंद्र भट्ट (पक्षी विज्ञानी) कुल सचिव गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय व इसी विद्यालय के प्रोफेसर प्रभात कुमार तथा सुभाष कुमार के साथ- साथ मंच पर मर्म चिकित्सा के क्षेत्र मे अन्तरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त ऋषिकुल आयुर्विदिक कालेज हरिद्वार के निदेशक सुनील जोशी , जनसत्ता के पूर्व संपादक पलास विश्वास, वरिष्ठ पत्रकार राजीव लोचन साह, चंद्रमोहन पपनैं व ट्रस्ट अध्यक्ष गोबिंद पंत 'राजू' ने  दीप प्रज्वलित कर किया। स्व. उमेश डोभाल, स्व. गिरीश तिवारी 'गिर्दा' व स्व.राजेंद्र रावत 'राजू' के चित्रों पर फूल माला अर्पित की।

स्व. उमेश डोभाल के कृतित्व व व्यक्तित्व पर 27 मिनट की लघु फिल्म व बृजमोहन शर्मा निर्मित 7 मिनट की 'ऊर्जा के आधुनिक तकनीक' विषय पर आधारित डॉक्यूमेंट्री फिल्म के प्रदर्शन के बाद मंचासीन सभी अतिथियो को आयोजकों द्वारा शाल ओढा कर व स्मृति चिन्ह भेट कर सम्मानित किया गया। 

स्व.उमेश डोभाल ट्रस्ट अध्यक्ष गोबिंद पंत 'राजू' ने स्व. उमेश डोभाल की शराब माफिया द्वारा की गई हत्या के कारणो, तत्कालीन पुलिस प्रशासन की मिली भगत से केश दबाने, देश के विभिन्न शहरो व कस्बो मे हत्या के विरोध मे हुए आन्दोलनो व डीएनए टेस्ट के बाद मुजरिमो के नामो के खुलासे तथा उन्हे मिले दंड के बावत तथा ट्रस्ट की गतिविधियों के बारे मे अवगत कराया।

13 जुलाई के मुख्य वक्ताओं मे वी के शर्मा, देवी प्रसाद त्रिपाठी, पलास विश्वास, राजीव लोचन साह व डॉ दिनेश भट्ट मुख्य थे। मंच संचालन रजनीकांत शुक्ल ने किया। 

14 जुलाई को वरिष्ठ पत्रकार राजीव लोचन साह की अध्यक्षता मे मुख्य अतिथि गढरत्न व विख्यात लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी ने स्व.उमेश डोभाल की शहादत व उनके द्वारा की गई प्रखर पत्रकारिता के महत्व पर अपने उदगार व्यक्त किए। जनगीत गाकर स्व.उमेश डोभाल को सच्ची श्रद्धाजंलि अर्पित की। 
गीत के बोल थे-
वक्त को रेबार, रेबार त्वए खुड़ी ठैर थोड़ा सुडी जा...यू टूटी उज्यडी व्यथा का...।
आयोजक ट्रस्ट द्वारा गढरत्न लोकगायक को शाल ओढा कर व स्मृति चिन्ह भेट कर सम्मानित किया गया।
सभागार के प्रांगण मे वी मोहन नेगी, पाश, विवेक रावत, राजेंद्र रावत 'राजू', वीरेन डंगवाल, गोरख पांडे, गिरीश तिवारी 'गिर्दा' व उदय प्रकाश की सु-विख्यात कविताओं से सुसज्जित आशीष नेगी की पोस्टर एवं पेंटिंग प्रदर्शनी के साथ-साथ उत्तराखंड के अनेको प्रकाशकों की किताबो के स्टाल भी सुसज्जित थे।
उमेश डोभाल स्मृति समारोह हरिद्वार स्मारिका 2019 का विमोचन मंचासीन अतिथियो द्वारा किया गया। 
'गंगा दशा व दिशा' विषय पर मुख्य व्याख्यान मुख्य वक्ता प्रख्यात समाज वैज्ञानिक रवि चोपड़ा द्वारा दिया गया। जिसमे उन्होंने गंगा के प्राकृतिक, सांस्कृतिक, सामाजिक, आर्थिक इत्यादि के महत्व को अपने सारगर्भित व्याख्यान के माध्यम से व्यक्त किया। अवगत कराया सरकार व समाज की संयुक्त रूप से गंगा के प्रति बड़ी जिम्मेवारी व उत्तरदायित्व हैं। चूक होने पर बहुत बड़ा अनर्थ हो सकता है। मिलजुल कर सबको गंगा की स्वछता पर ध्यान देना होगा, जिससे गंगा की अविरलता बनी रहे।
इस वर्ष का 'उमेश डोभाल स्मृति सम्मान' डॉ डी आर पुरोहित को। 'स्व.गिरीश तिवारी गिर्दा' सम्मान श्रीशमौर्य को व राजेंद्र बिष्ट को 'राजेंद्र रावत जनसरोकार सम्मान' प्रदान किया गया।
मीडिया पुरुष्कारो मे मयंक जोशी को प्रिंट मीडिया, रोबिन सिंह को इलैक्ट्रोनिक मीडिया व सोसल मीडिया सम्मान चंद्र शेखर जोशी को प्रदान किया गया। सभी सम्मानितों को सम्मान स्वरूप 11 हजार रुपयों की पुरूस्कार राशि भी प्रदान की गई।
सभी सम्मान मुख्य अतिथि गढ़रत्न व लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी तथा समाज विज्ञानी रवि चोपड़ा के सानिध्य मे समारोह की अध्यक्षता कर रहे वरिष्ठ पत्रकार राजीव लोचन साह, गोविंद पंत 'राजू'  व डॉ सुनील कुमार बत्रा प्राचार्य एस.एम.जे.एन पी.जी कालेज हरिद्वार द्वार प्रदान किए गए।
उत्तराखंड बोर्ड परीक्षा 2018 मे रानीखेत नेशनल इंटर कालेज के दो प्रतिभाशाली विद्यार्थियों कुमारी नीलम पाटनी व बृजमोहन भगत को अनिरुद्ध जोशी व भुवनेश्वर जोशी स्मृति प्रतिभा सम्मान 2019 से नवाजा गया। प्रत्येक को शाल ओढा कर, स्मृति चिन्ह व 25-25 हजार रुपयो की राशि सम्मान व प्रोत्साहन स्वरूप भेट की गई।
स्मृति समारोह के अंतिम खुले सत्र मे गंगा के महत्व पर परिचर्चा का आयोजन किया गया। जिसमे  दिवाकर भट्ट, पुरुषोत्तम शर्मा (गांधीवादी), राजीव शर्मा इत्यादि ने प्रतिभाग कर गंगा के उदगम, उसके महत्व व वर्तमान दुर्दशा पर प्रकाश डाला।
प्रख्यात पक्षी विज्ञानी डॉ दिनेश चंद्र भट्ट कुल सचिव गुरुकुल कांगड़ी विश्व विद्यालय द्वारा पक्षियों के जीवन व उनकी बोली पर एक लघु फिल्म का प्रदर्शन किया गया। फिल्म मे पक्षियों के व्यवहार व उनकी जीवनचर्या के बावत महत्वपूर्ण जानकारी से अवगत कराया गया। 
सत्यनारायण रतूड़ी ट्रस्ट पदाधिकारी द्वारा ट्रस्ट की मीटिंग मे पास पांच जनसरोकारों से जुड़े प्रस्ताओ को पढ़ कर सुनाया गया, उनकी पुष्टि की गई।
स्व. उमेश डोभाल स्मृति समारोह ट्रस्ट अध्यक्ष वरिष्ठ पत्रकार गोविंद पंत 'राजू' ने अपने समापन संबोधन मे हरिद्वार के वरिष्ठ सम्मानित पत्रकार सुनील दत्त पांडे व उनकी टीम का आयोजन को सफल बनाने हेतु आभार व्यक्त किया, साथ ही सभी राज्यो से आए पत्रकार साथियो व अन्य प्रबुद्ध जनो का भी आभार व्यक्त कर कार्यक्रम के समापन की घोषणा की। 
कार्यक्रम का संचालन गणेश खुगशाल 'गणी' ने बखूबी किया।
      -------------------------
Copyright @ 2019.