राष्ट्रीय (01/08/2019) 
सितंबर 2019 में होने वाली दूसरी आईटीएम (इंडिया टूरिस्ट मार्ट) की घोषणा

भारत की खरीदार-विक्रेता की सबसे बड़ी घरेलू पर्यटन की बैठक
नई दिल्ली 31 जुलाई 2019:- घरेलू पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से 23 सितंबर को भारत की सबसे बड़ी पर्यटन बैठक का आयोजन किया जाएगा। इस बैठक में सबसे ज्यादा खरीदार और विक्रेता शामिल होते हैं। इस टूरिज्म मार्ट का आयोजन पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार, और भारत की संपूर्ण टूरिज्म इंडस्ट्री के द्वारा किया जाएगा। देश की सभी टूरिज़्म एसोसिएशंस FAITH की सदस्य हैं। FAITH हर साल इस टूरिज़्म मार्ट का आयोजन करती है। इन पर्यटन संस्थाओं में शामिल हैं 
1. फेडरेशन ऑफ होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशंस ऑफ इंडिया (FHRAI)
2. होटल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (HAI) 
3. इंडियन एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स (IATO)
4. ट्रेवल एजेंट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (TAAI)
5. ट्रेवल एजेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (TAFI)
6. एसोसिएशन ऑफ डोमेस्टिक टूर ऑपरेटर्स ऑफ इंडिया (ADTOI) 
7. एडवेंचर टूर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (ATOAI) 
8. इंडिया कनवेंशन प्रमोशन ब्यूरो (ICPB) 
9. इंडियन हेरिटेज होटल्स एसोसिएशन (IHHA) 
10. इंडियन टूरिस्ट ट्रांसपोर्टर्स एसोसिएशन (ITTA)
23 से 25 सितंबर के बीच 3 दिनों तक चलने वाले इस मार्ट का आयोजन नई दिल्ली में चाणक्यपुरी स्थित अशोक होटल में किया जाएगा। समारोह का उद्घाटन माननीय पर्यटन मंत्री श्री प्रहलाद सिंह पटेल करेंगे। जहाजरानी और परिवहन मंत्री श्री नितिन गडकरी आयोजन में मुख्य अतिथि रहेंगे। 

आईटीएम 2019 को संबोधित करते हुए FAITH चेयरमैन श्री नकुल आनंद ने कहा कि 
'इंडिया टूरिज्म मार्ट 2019 FAITH की पहल है लेकिन भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय के सहयोग की वजह से ही हम 2020 तक सालाना 2 करोड़ पर्टयकों  की आवाजाही के लक्ष्य को हासिल कर पाएंगे। आईटीएम ग्राहकों, पर्यटकों, राज्यों और पर्यटन सेक्टर से जुड़े विभिन्न लोगों के लिए एक शानदार प्लेटफ़ॉर्म साबित हुआ है। 'यहां पर एक ही छत के नीचे बी टू बी मीटिंग्स हो सकती हैं। जानकारी का आदान प्रदान करने का ये एक बेहतरीन मंच है। इन सबका मकसद भी एक है केवल और केवल पर्यटन को बढ़ावा देना। 

प्रेस कॉन्फ्रेंस को FAITH के ऑनरेरी सचिव सुभाष गोयल ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा-
इंडिया मार्ट का लक्ष्य है कि कारोबारी आपस में सीधे संवाद कर सकें। इसमें भी विदेशी और देसी टूर ऑपरेटर्स के बीच में संवाद स्थापित करना और कराना इंडिया मार्ट का ध्येय रहता है। इससे एक बाज़ार तैयार किया जाता है जहां पर कारोबारी मौकों को भुनाकर पर्यटन से जुड़ी गतिविधियों को बढ़ावा दिया जाता है। जब पर्यटन उद्योग के अलग अलग हिस्सेदार आपस में जुड़ेंगे तो ये सेक्टर तेजी से बढ़ेगा और 2020 तक 2 करोड़ पर्यटकों को लाने का लक्ष्य सफल हो सकेगा। 

भारत में पर्यटन जगत की सभी अहम कड़ियों यानी ट्रेवल, होटल, घूमने की जगहों, टूर एंड ट्रांसपोर्ट के मध्यस्थों को जोड़ने और एक साथ लाने का काम इंडिया मार्ट बेहतरीन तरीके से कर सकता है। एक ही छत के नीचे अपने संभावित साझीदारों से मिलने, अनुमभव साझा करने, जानकारी जुटाने का ये एक सरल माध्यम है। इससे भारत की छवि पर्यटन के लिहाज से एक बेहतरीन राष्ट्र के तौर पर स्थापित होने में भी मदद मिलती है। ग्लोबल टूरिज्म मार्ट बनाने की इस कोशिश को लंदन के WTM औक बर्लिन के ITB से जोड़कर देखा जा सकता है।

पिछले साल मार्ट का पहला आयोजन बेहद सफल रहा था जिसमें 62 देशों के 244 ग्राहकों ने भाग लिया था। इस साल 70 देशों के 300 ग्राहकों के इस आयोजन का हिस्सा बनने की उम्मीद की जा रही है। 
Attachments area
Copyright @ 2019.