राष्ट्रीय (02/08/2019) 
केजरीवाल के खिलाफ जिसने भी आवाज उठाई उसे पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया-मनोज तिवारी

नई दिल्ली, 2 अगस्त।  अरविन्द केजरीवाल सरकार में मंत्री रहे  कपिल मिश्रा की विधानसभा सदस्यता रद्द करने के मसले पर टुकड़े-टुकड़े गैंग पर कटाक्ष करते हुये दिल्ली भाजपा अध्यक्ष  मनोज तिवारी ने कहा कि जब  कपिल मिश्रा ने केजरीवाल पर व्यक्तिगत टिप्पणी की और दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सियासी जमीन को हिला कर रख दिया तो केजरीवाल ने किस के दबाव में आकर कोई कार्रवाई नहीं की थी। यदि केजरीवाल के लिये भ्रष्टाचार, रिश्वतखोरी करना कोई गुनाह था और वह इसको संरक्षण नहीं देते थे तो पिछले दो सालों से विधायक  कपिल मिश्रा की सदस्यता खत्म करवाने के लिये किसके आदेश का इंतजार कर रहे थे।

     तिवारी ने कहा कि सच्चाई तो यह है कि आम आदमी पार्टी में लोकतंत्र और भ्रष्टाचार के खिलाफ जिसने भी आवाज उठाई उसको केजरीवाल ने पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया। आम आदमी पार्टी वन मैन शो की तरह राजनीति करने वाला दल है जिसका भारत की राजनीति में अब कोई भविष्य नहीं है। ऐसी पार्टियां बनती हैं और पानी के बुलबुले की तरह खत्म हो जाती हैं। लेकिन  कपिल मिश्रा ने केजरीवाल की सियासी जमीन की ईंट से ईंट बजा दी थी तब केजरीवाल मौन साध कर क्यों बैठे थे ? जबकि हर छोटी-बड़ी घटना पर केजरीवाल तुरन्त कार्रवाई करते हैं। विधानसभा चुनावों को देखते हुये केजरीवाल अपने खिसकते जनाधार को बचाने के लिए हर वो काम कर रहे हैं जो उन्हें एक संवैधानिक पद पर बैठे हुये नहीं करना चाहिये।  कपिल मिश्रा ने यदि राष्ट्र निर्माण में अपनी भागीदारी के लिए प्रचार किया है तो क्या यह गुनाह है ?

Copyright @ 2019.