राष्ट्रीय (07/09/2019) 
बड़ी संख्या में ईसाई समुदाय के लोग भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुये


नई दिल्ली, 7 सितम्बर।  प्रदेश भाजपा अध्यक्ष  मनोज तिवारी के नेतृत्व में आज आधा दर्जन चर्चों के अध्यक्ष और बड़ी संख्या में ईसाई समुदाय के लोग भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुये। दिल्ली सरकार अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य व डिफेंस कालोनी कैथोलिक चर्च के अध्यक्ष सिल्वेस्टर कुजूर, पंजाबी बाग चर्च के अध्यक्ष अमृत पोपो एवं अरविंद लाकड़ा, गोल डाकखाना चर्च की अध्यक्ष सिस्टर मैक्सिमा, डीडीए के पूर्व उप निदेशक और सर्वेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष सुन्दर पाल औलख आदि प्रमुखर लोगों को प्रदेश प्रभारी  श्याम जाजू एवं प्रदेश अध्यक्ष  मनोज तिवारी ने भाजपा का पटका पहनाकर पार्टी में शामिल करवाया। इस अवसर पर मीडिया सह-प्रभारी  नीलकांत बख्शी, प्रभारी  अशोक गोयल उपस्थित थे। किसान मोर्चा के प्रभारी  अशोक ठाकुर ने कार्यक्रम का संचालन किया।
 
राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व दिल्ली के प्रभारी  श्याम जाजू ने कहा कि भाजपा सबका साथ-सबका विकास, सबका विश्वास के आधार पर समाज के सभी वर्गों और धर्मों के लोगों का स्वागत कर रही है। हमारा संकल्प एक भारत श्रेष्ठ भारत है। भारत को विश्व गुरु बनाने के लिए प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी 24 घंटे सातों दिन काम कर रहे हैं और हमें भी उनसे प्रेरणा लेकर अपने-अपने क्षेत्र में काम करना चाहिए। मुझे विश्वास और पूरी आशा है कि आज भाजपा परिवार में शामिल हुए लोग अपने समाज के लोगों को राष्ट्रवादी विचारधारा से प्रेरित करेंगे और उन्हें भाजपा का समर्थन करने के लिए प्रोत्साहित करेंगे।

उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुये प्रदेश भाजपा अध्यक्ष  मनोज तिवारी ने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी की नीतियों से प्रभावित होकर दिल्ली भर से आज बड़े पैमाने पर ईसाई समाज के लोग भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो रहे हैं। आज पार्टी में शामिल हुये लोग समाज के बुद्धिजीवि और समाज को असर रखने वाले लोग हैं क्योंकि हर वर्ग के लोगों को लग रहा है कि देश को सही दिशा में ले जाने का काम मोदी सरकार कर रही है। आज पूरी दुनिया में जाने वाले भारतीय को भारतीय होने का सम्मान मिल रहा है।

 तिवारी ने कहा कि दिल्ली के कोने-कोने से लोग भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने के लिये आ रहे हैं। हर वर्ग, हर समुदाय के लोग भारतीय जनता पार्टी के प्रति विश्वास प्रकट कर रहे हैं और यही पार्टी की असली ताकत है जो आने वाले विधानसभा में 21 साल का वनवास खत्म करेगी। दिल्ली के लोगों में केजरीवाल सरकार के प्रति बेहद आक्रोश है क्योंकि जिन मुद्दों को लेकर केजरीवाल सत्ता में आये थे उनको दरकिनार करके केजरीवाल भ्रष्टाचार में लिप्त हो गये हैं। आज 55 महीने से दिल्ली के लोग केजरीवाल नाम की बीमारी से कराह रहे हैं। 

Copyright @ 2019.