राजनितिक (31/10/2020) 
हरियाणा में किसानों पर दर्ज 302 के मुकदमे वापस ले सरकार - सुशील गुप्ता
नारायणगढ, 31 अक्टूबर। नारायणगढ़ में कृषि कानूनों के समर्थन में बीजेपी की यात्रा के दौरान एक व्यक्ति की मौत के बाद किसानों पर दर्ज हुए मुकदमों को वापस लेने को लेकर आज आम आदमी पार्टी के सांसद एवं हरियाणा सहप्रभारी सुशील गुप्ता की अगुवाई में विरोध प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन में किसानों पर दर्ज हर मुकदमें को वापस लेने की मांग को लेकर स्थानीय एसडीएम को एक ज्ञापन भी सौंपा गया।
मालूम हो कि नारायणगढ में भाजपा की टृैक्टर रैली के दौरान एक व्यक्ति की हार्ट अटैक के कारण मौत हो गई थी। जिसको स्थानीय पुलिस ने किसानों द्वारा हत्या दिखाकर 302 के मुकदमें दर्ज कर दिए गए थे। जिसके विरोध में आज शनिवार आम आदमी पार्टी ने नारायणगढ में एसडीएम आफिस के बाहर धरना प्रदर्शन किया। 
सांसद सुशील गुप्ता ने प्रदर्शन में शामिल लोगों को संबोधित करते कहा कि ‘बीजेपी की रैली का वीडियो सामने आ चुका है, जिससे साफ पता चलता है कि रैली में उस व्यक्ति की मौत से प्रदर्शन कर रहे किसानों का कोई लेना देना नहीं है। इसके बावजूद स्थानीय डीएसपी अनिल कुमार ने 7 किसानों पर नामजद और 15 अन्य किसानों के नाम से 302 का मुकदमा दर्ज कर डाले। जिसको लेकर आज भारी संख्या मंे आम आदमी पार्टी कार्यकर्ता एंव किसान नारायणगढ के धरना प्रदर्शन में शामिल हुए। इस प्रदर्शन में भी स्थानीय डीएसपी किसानों को धमकाने से बाज नहीं आया।
असल में सांसद सुशील गुप्ता के नेतृत्व में जब प्रदर्शनकारी स्थानीय एसडीएम वैशाली शर्मा को ज्ञापन सौंपने के लिए पहुंचे तो, डीएसपी अनिल कुमार ने लोगों के साथ बतमीजी करनी शुरू कर दी। मालूम हो कि यह वहीं डीएसपी अनिल कुमार है, जिन्होंने बेकसूर किसानों पर 302 के मुकदमें बनाए थे। उनको वहां देख प्रदर्शनकारियों ने उनके विरोध में भी नारे लगाने शुरू कर दिए। ऐसे में डीएसपी अपना विरोध सुन सांसद सुशील गुप्ता तथा प्रदर्शन में शामिल महिलाओं के साथ बतमीजी करने लेगे। इस दौरान अनिल कुमार डीएसपी कम भाजपा के प्रवक्ता ज्यादा दिखाई दे रहे थे। वह प्रदर्शनकारियों को धमकाने के साथ गुंडागर्दी भी कर रहे थे। वह अपने आप को एसडीएम से भी बडा समझ रहे थे। वह एसडीएम के ज्ञापन को भी स्वंय लेने की बात कर रहे थे। लेकिन जब सांसद महोदय के सामने उनकीे एक नही चली तो वह 11 में से 5 लोगों को ले जाकर एसडीएस आफिस पहुंचे। 
जहां उक्त समस्त जानकारी सांसद सुशील कुमार ने स्थानीय एसडीएम वैशाली शर्मा को दी। सांसद सुशील गुप्ता की सारी बात सुनने के उपरांत एसडीएम वैशाली ने डीएसपी अनिल कुमार के व्यवहार पर लेकर अफसोस जताया और कहा कि आगे से इस तरह को व्यवहार किसी के साथ नहीं किया जाना चाहिए। वह इस पर जल्द ही कोई ना कोई कार्यवाही करेंगी।
ज्ञापन में सरकार और पुलिस प्रशासन से नारायणगढ में किसानों पर दर्ज झुठे मुकदमें जल्द से जल्द वापस लेने को कहा गया।
Copyright @ 2019.