(29/11/2020) 
किसानों को गुमराह करने के लिए केजरीवाल-भाजपा की साजिश बेनकाब - अल्का लाम्बा
अल्का लाम्बा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी  और आम आदमी पार्टी दोनो मिलकर किसानों को गुमराह कर रहे है। उन्होंने कहा कि जहां भाजपा की मोदी सरकार किसान विरोधी बिल पास करके किसानों पर सीधा प्रहार कर रही है, इन बिलों के द्वारा किसानों को उनकी फसल का एमएसपी भी नही मिलेगा और कृषि क्षेत्र को निजी हाथों में सौंप दिया गया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली की अरविन्द सरकार पिछले 7 वर्षो से किसानों को ठग रही है, किसानों को उनकी फसल के नुकसान पर कोई बीमा नही मिलता है। उन्होंने दिल्ली सरकार की नाकामियों का उदाहरण नरेला मंडी में धान 1650 प्रति क्विंटल बिक रहा है जबकि इस वर्ष न्यूनतम समर्थन मूल्य 1868 रुपये है। मतलब दिल्ली के किसानों को नुकसान उठाना पड़ रहा है।  उन्होंने कहा कि अरविन्द सरकार ने 2019-2020 के बजट में किसान मित्र योजना की घोषणा की और 19 महीने बीत जाने तक किसानों के कल्याण के लिए कुछ नही किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा की केन्द्र सरकार द्वारा संसद में पास किए गए तीनों किसान विरोधी बिलों पर दिल्ली सरकार किसानों के लिए घड़ियाली आंसू बहा रही है। वहीं दिल्ली सरकार ने खुद 23 नवम्बर, 2020 को अधिसूचना जारी करके यह कहा है कि केन्द्र सरकार द्वारा किसान बिलों को जैसे ही लागू किया जाता है दिल्ली सरकार उनके अनुसार दिल्ली में लागू करने की तैयारी कर ही है। सच में दिल्ली सरकार अगर किसनों की हितेषी है तो दिल्ली कांग्रेस मांग करती है कि केजरीवाल तुरन्त विधानसभा का सत्र बुलाकर केन्द्र सरकार द्वारा बनाये गए कानून के विरूद्ध प्रस्ताव पास करें और स्पष्ट तौर पर कहे कि दिल्ली में किसान विरोधी कानून लागू नहीं किया जाऐगा।
Copyright @ 2019.