(01/11/2021) 
बहुजन समाज अपने गौरवशाली इतिहास को प्राप्त करने के लिए तत्पर : लक्ष्य
महराजगंज || भारतीय समन्वय संगठन (लक्ष्य) की महराजगंज टीम ने "बहुजन समाज जगेगा, शोषणकारी भगेगा" अभियान के तहत एक कैडर कैम्प का आयोजन महराजगंज के गांव लेजार महादेवा में किया, जिसमें लगभग 10 गांव के लोगों ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया |

लखनऊ से आईं लक्ष्य की महिला कमांडरों ने लक्ष्य के कैडर कैम्पों में बढ़ती बहुजन समाज की महिलाओं की संख्या पर ख़ुशी जाहिर करते हुए कहा कि अब ऐसा प्रतीत होने लगा है कि हमारी बहनें घूँघट से बाहर निकलकर अपने अधिकारों को प्राप्त करने के लिए संघर्ष के लिए एकजुट होने लगी है जोकि बहुजन समाज के लिए अच्छे संकेत है।

लखनऊ से आई लक्ष्य कमांडर चेतना राव, विजय लक्ष्मी गौतम व रागनी चौधरी ने कहा कि आज बहुजन समाज के लोग अपने महापुरुषों के संघर्ष को समझने लगे है और वे उनके बताये मार्ग पर एक एक कदम रखने लगे है | उन्होंने जोर देते हुए कहा कि इसमें खुशी की बात यह है कि इस परिवर्तन के आंदोलन में बहुजन समाज की बहन बेटियां भी बढ़चढ़कर सहभागिता देने लगी है |

लक्ष्य कमांडरों ने कहा कि देश भर में बाबा साहब डॉ भीमराव आंबेडकर के नाम पर तरह तरह के सामाजिक आंदोलन चल रहे है जिन्हे देखकर अब ऐसा लगने लगा है कि बहुजन समाज के लोग अब किसी भी कीमत पर शोषण को सहन नहीं करेंगे।उन्होंने अंधविश्वास को लात मारनी सीख ली है, शिक्षा को अपना हथियार बना लिया, शोषण के खिलाफ करवट बदलने लगे है और महापुरुषों को ही अपना भगवान मान लिया है। उनकी वाणी और उनकी शिक्षाएं ही उनका जीवन का सार बनने लगा है जोकि बहुजन समाज के लोगों के लिए अच्छे संकेत है अर्थात् ऐसा प्रतीत होने लगा है कि बहुजन समाज अपने गौरवशाली इतिहास को प्राप्त करने के लिए तत्पर है | 

लक्ष्य युथ कमांडर व मिशन गायक कुलदीप बौद्ध ने अपने जोशीले गीतों के माध्यम से कैडर कैम्प में जोश भर दिया और महापुरुषों के योगदान को याद किया | कैडर कैम्प के आयोजकों व उपस्थिति लोगों ने लक्ष्य कमांडरों द्वारा चलाये जा रहे जागरूकता अभियान की जोरदार प्रसंशा की और आगामी 6 दिसम्बर को जिला महराजगंज में एक विशाल कैडर कैम्प करने की घोषण भी की |

इस कैडर कैंप में लखनऊ से आई लक्ष्य कमांडर चेतना राव, विजय लक्ष्मी गौतम, रागनी गौतम, लक्ष्य युथ कमांडर कुलदीप बौद्ध तथा गोरखपुर से आए लक्ष्य कमांडर गोरख प्रसाद सिद्धार्थ व महाराजगंज से साथी रमाकांत, फागु प्रसाद, ज्ञान दास, ब्रह्मदेव, ओम प्रकाश, सुशीला गौतम व जगदम्बा आदि ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया |
Copyright @ 2019.