स्वास्थ्य (03/05/2021) 
कालाबाजारी रोकने के लिए टिक्का मुफ्त करें मोदी सरकार,वीरेश शांडिल्य ने भेजा पीएम व स्वास्थ्य मंत्री को पत्र
चंडीगढ़ : एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेश शांडिल्य ने आज भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री  डॉ.हर्षवर्धन को पत्र भेजा व मांग कि कोरोना मरीजों को लगने वाले रेमडेसिविर व टोक्सिक के टिक्के मुफ्त केंद्र सरकार द्वारा कोरोना मरीजों को सहायता के रूप में दिए जाएँ l शांडिल्य ने कहा क्या केंद्र सरकार कोरोना मरीजों को 3400 का टिक्का नहीं दे सकती l उन्होंने कहा 7 कम्पनियां कोरोना का टिक्का बना रही है फिर इस टिक्के की कालाबाजारी कैसे और क्यों हो रही है व किसके इशारे पर हो रहीं हैं l उन्होंने कहा कालाबजारी रोकने के लिए केंद्र सरकार को तुरंत सभी दवाइयों की दुकानों पर इस टिक्के की सप्लाई बढाने के कम्पनियों को निर्देश देने चाहिए ताकि कालाबजारी बंद हो सकें l शांडिल्य ने कहाँ लोग लाखों रूपए में भी इस टिक्के को खरदीने के लिए तैयार है जिसके कारण कालाबाजारियों को कोरोना काल में भी कमाई का धंधा मिल गया है l शांडिल्य ने कहा नरेंद्र मोदी इस टिक्के को मुफ्त कर कालाबाजारियों का खात्मा करने का कार्य करें l

वीरेश शांडिल्य ने देश की स्थिति भयानक हैं और ऐसी स्थिति में जो लोग कोरोना के टिक्के की कालाबाजारी कर लाखों रूपए कमा रहे वह पाप के भागिदार बन रहे है उन्होंने कहा कोरोना काल में लोगों की सेवा कर अपने पाप धोने का समय हैं यह भगवान द्वारा लोगों की अग्निपरीक्षा ली जा रही है l उन्होंने कहा कोरोना न अमीर देख रहा है न गरीब इसलिए सभी एकजुट होकर इस कोरोना खात्मे के यज्ञ में आहुति डालने का काम करें l एटीएफआई प्रमुख शांडिल्य ने वहीँ देश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन से मांग की देश में लाखों प्राइवेट हस्पताल हैं इन सभी हस्पतालों में कोरोना वार्ड व कोरोना टेस्टिंग सेंटर बनाने के निर्देश दिए जाएँ l उन्होंने कहा इससे लोगों में डर खत्म होगा l शांडिल्य ने वहीँ ऑक्सीजन सिलिंडर का स्टॉक करने वाले लोगों पर भी गुस्सा व्यक्त किया और कहा कि अगर मरीज को सिलिंडर की जरूरत होगी तो क्या बिना डॉक्टर के सिलिंडर लगा सकते हैं इसपर स्टॉक करवाने लोग सोचें तो उन्होंने कहा इसलिए किसी भी चीज का स्टॉक न करें ताकि किसी अन्य मरीज को ला
Copyright @ 2019.