स्वास्थ्य (14/05/2021) 
केजरीवाल सरकार द्वारा वैक्सीन रजिस्ट्रेशन में की जा रही बड़ी धांधली का खुलासा
 दिल्ली सरकार ने अब टीकाकरण की भी कालाबाजारी शुरू कर दी है। प्रदेश भाजपा मीडिया प्रमुख नवीन कुमार ने केजरीवाल सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि 18 से 44 साल के लोगों के पंजीकरण के लिए थोड़े समय के लिए ही स्लॉट खोल रहे हैं और आम लोगों के लिए स्लॉट या तो खुलता नहीं है या खुलने पर पूरा भरा हुआ दिखाई देता है। इस तरह स्लॉट खोलने की जानकारी केजरीवाल के कुछ लोगों को ही मिलती है जिससे आम आदमी के हाथ कुछ हासिल नहीं होता। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार ने टीकाकरण के लिए अपने कुछ ऐसे लोगों को रख रखा है जो टीकाकरण की पंजीकरण समय अवधि को अपने अनुसार चला रहे हैं। आम जनता जो 18 साल से 44 साल के हैं, रजिस्ट्रेशन टाइम स्लॉट के लिए परेशान हैं लेकिन केजरीवाल सरकार के सिविल डिफेंस या दूसरे लोग हैं, जो अपने हिसाब से टाइम स्लॉट खोलते हैं और उससे पहले वो अपने लोगों को बता देते हैं ताकि उनके खुद के लोग रजिस्ट्रेशन टाइम स्लॉट करा लें।

 नवीन कुमार ने केजरीवाल द्वारा वैक्सीन रजिस्ट्रेशन के पीछे चल रहे कालाबाजारी का उजागर करते हुए कहा कि 12 मई को दिल्ली में पूरा दिन आम जनता वैक्सीन रजिस्ट्रेशन टाइम स्लॉट के लिए इंतजार करती रही, लेकिन टाइम स्लॉट खोला गया रात को 23ः59 मिनट पर। उस वक्त विभिन्न तीन जगहों पर 149, 92 और 150 सीटें थीं यानी पूरे 391 सीटें थी, लेकिन सिर्फ एक मिनट के अंदर 31 सीटें रह गई। उन्होंने कहा कि 13 मई को सुबह 10ः27 मिनट पर वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन टाइम स्लॉट खोला गया। श्री नवीन कुमार ने केजरीवाल से सवाल पूछा कि जब सुबह 9 बजे का समय दिया गया है तो 10ः30 बजे खोलने का क्या मतलब? 

 नवीन कुमार ने कहा कि एक तरफ वैक्सीन के लिए केजरीवाल सरकार आम जनता में असंतोष की भावना पैदा कर रही है तो दूसरी तरफ उन्ही के लोग भ्रष्टाचार कर रहे हैं। अगर केजरीवाल सरकार वैक्सीन के लिए इतना ही वचनबद्ध है तो विभिन्न जिलों में एक फिक्स समय पर रजिस्ट्रेशन खोलिए और उस समय को सभी के साथ साझा कीजिए ताकि लोग अपना टाइम स्लॉट फिक्स कर सके। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार को इस समय प्रचार और भ्रष्टाचार की राजनीति से ऊपर उठकर लोगों को वैक्सीन लगवाने में सहायता करनी चाहिए, लेकिन आज आम आदमी त्राहिमाम कर रहा है और उसके बावजूद केजरीवाल के लोग पैसे लेकर जिसको चाहे उसका रजिस्ट्रेशन कर रहे हैं। इस महामारी में केजरीवाल को लोगों की मदद करनी चाहिए न कि दिल्ली की जनता की जिंदगी से खेलना चाहिए।

Copyright @ 2019.