स्वास्थ्य (31/05/2021) 
टीकाकरण को लेकर प्रदेश की सरकार जरा भी संवेदनशील नही: कौशिक
रायपुर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर हमला करते हुए कहा कि प्रदेश की सरकार पहले दिन से ही टीकाकरण को लेकर जरा भी संवेदनशील होती तो ऐसी परिस्थितियां निर्मित नहीं होती, जिसके लिये पूरी तरह से प्रदेश की कांग्रेस सरकार जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस संवेदनशीलता के टीका निर्माण से टीकाकरण अभियान को जन अभियान के दिशा में कार्य किया है। वह सबके लिए अनुकरणीय है। उन्होंने देश के प्रमुख दो संस्थानों सहित कोरोना टीका के निर्माण के लिये वैज्ञानिकों की सहभागिता को प्रोत्साहित किया है। यही कारण है कि हम वर्तमान में पूरी दुनिया में शीर्ष टीका निर्माता देश में से एक है। अब तक देश में करीब 22 करोड़ से अधिक टीका, केन्द्र सरकार के सहयोग से दिया गया है। इसके लिये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बधाई के पात्र है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने छत्तीसगढ़ सरकार को करीब 78 लाख टीका प्रदान किया था। इसके बाद भी पहले चरण में राज्य में टीकाकरण अभियान देरी से शुरू हुआ। इसके लिये कौन जिम्मेदार है?

केन्द्र ने कुल उत्पाद के 50 प्रतिशत स्वयं राज्यों के भेजा है। वहीं शेष 50 प्रतिशत टीके राज्य सरकार सीधा ले सकती थी। इन सबके बाद भी प्रदेश सरकार की अनिर्णय की स्थिति व ठोस नीति नहीं होने से पूरे प्रदेश में टीकाकरण को लेकर असमंजस की स्थिति बनी है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि जब सभी राज्यों के सुझाव पर केंद्र में 18 से 44 वर्ष के आयु के लोगों को टीकाकरण अभियान में शामिल किया तो प्रदेश की सरकार ने तैयारी के नाम पर कुछ भी नहीं किया है। जिसके कारण टीकाकरण अभियान को लेकर आमजनों में दुविधा  की स्थिति निर्मित हो गयी है।
उन्होंने कहा कि जब राज्य सरकार को टीकाकरण को लेकर आवश्यक तैयारी की जानी थी तब प्रदेश सरकार केवल मात्र पत्र लेखन में जुटी रही है। इसके साथ जब टीकाकरण अभियान में 18 से 44 तक आयु वर्ग को शामिल करने की बात आयी तो इस पूरे अभियान को गरीब और अमीर के बीच बंटाने की कोशिश की गयी।
उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में टीकाकरण को लेकर हालत खराब है। अब तो यह भी नहीं बताया जा रहा है कि टीका कब लगाया जायेगा। टीका के पोर्टल पर सही जानकारी नही मिल रही है। इसके साथ-साथ गांवों में टीकाकरण को लेकर जो भ्रम फैलाया गया है। उसे दूर करने के लिए प्रदेश सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने प्रदेश सरकार पर गंभीर आरोप लगाये कहा कि पूरे प्रदेश में टीकाकरण को लेकर जो अराजकता व अव्यवस्था का आलम है। उसके पूरी तरह से प्रदेश सरकार जिम्मेदार है। प्रदेश के लोगों के जन स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए टीकाकरण अभियान को सुचारू रूप से चलाया जाना चाहिये।

Copyright @ 2019.