बिज़नेस (15/06/2021) 
आईसीएसआई ने 33वां पीसीएस दिवस मनाया।
15 जून, 1988 को पेशेवर कंपनी सचिवों को पूर्ववर्ती कंपनी अधिनियम, 1956 के तहत वार्षिक रिटर्न प्रमाणित करने की मान्यता प्रदान की गई थी। तब से भारतीय कंपनी सचिव संस्थान हर साल 15 जून को पीसीएस दिवस के रूप में मनाता है।

इस वर्ष इस अवसर को मनाने के लिए, संस्थान ने "चुनौतीपूर्ण समय में बने रहना: जुनून, नवोन्मेष और प्रौद्योगिकी" के प्रासंगिक विषय पर एक वेबिनार का आयोजन किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में विदेश और संसदीय मामलों के केंद्रीय राज्य मंत्री श्री वी मुरलीधरन उपस्थित थे।

पेशेवर कंपनी सचिवों की तैयारी और क्षमता की सराहना करते हुए, श्री वी मुरलीधरन ने कहा, “पीसीएस तीस वर्षों से अधिक समय से अस्तित्व में है, यह अपने आप में हितधारकों के लिए उनके कार्य और महत्व को दर्शाता है।

कंपनी सचिवों ने आज कानूनी गलियारों के हर आयाम में अपनी जगह साबित की है, चाहे वह कंपनी अधिनियम 2013 हो या सेबी कानून या मध्यस्थता या दिवाला और इसलिए निति नियामकों ने इस पेशे में पूर्ण विश्वास दिखाया है। उन्होंने आगे कहा कि "आज के वेबिनार की थीम वर्तमान समय में बहुत उपयुक्त है, क्योंकि यह नवोन्मेष और तकनीक से जुडी है जो 21वीं सदी को आगे बढ़ाएगी।

वेबिनार में कोविड -19 महामारी के बाद अर्थव्यवस्था की रिकवरी प्रक्रिया के हर चरण में कंपनी सचिवों की गहन भूमिका के बारे में चर्चा की गई, इस श्रृंखला में मुख्य विषय थे ;-

• सीएसआर: प्रभाव आकलन
• नए अवसर तलाशना: मूल्यांकन, मध्यस्थता, श्रम कानून
• सफल होने के लिए प्रेरणा: अनुभव, ज्ञान, लक्षण

समारोह में, ICSI ने पेशे के 10 सबसे वरिष्ठ पेशेवर कंपनी सचिवों को पेशे को विकास और मान्यता दिलाने के उनके अपार योगदान के लिए सम्मानित किया। इस अवसर पर निम्नलिखित कोर्सेस और प्रकाशन भी विमोचित किए गए:
• पीसीएस इंडक्शन प्रोग्राम
• कमर्शियल कंट्रैट मैनेजमेंट में सर्टिफिकेट कोर्स
• इन्सॉल्वेंसी एंड बैंकरप्टसि कोड, 2016 में सर्टिफिकेट कोर्स
• सी एस आर इंपैक्ट असेसमेंट  क्रैश कोर्स आई सी एस आई मैंबरस् के लिए
• सीएसआर पर गाइडेंस नोट

गवर्नेंस प्रोफेशनल्स को दी गई जिम्मेदारी और विश्वास पर आईसीएसआई के अध्यक्ष सीएस नागेंद्र डी राव ने विनियामक प्राधिकरणो को धन्यवाद दिया और कहा कि "इससे कंपनी सचिवों की प्रैक्टिस करने की भूमिका को फिर से परिभाषित किया है और एक मजबूत और सतत भारत को विकसित करने में उनकी अटूट प्रतिबद्धता को बढ़ाया है। उन्होंने सेबी को पीसीएस को विनियम 10 और 21 के तहत सेबी डीलिस्टिंग रेगुलेशन 2021 के तहत ड्यू डिलिजेंस करने के लिए मान्यता देने के लिए धन्यवाद दिया।

इस अवसर पर आईसीएसआई के उपाध्यक्ष सीएस देवेंद्र देशपांडे,आईसीएसआई परिषद सदस्य और अध्यक्ष पीसीएस समिति सीएस मनीष गुप्ता, और आईसीएसआई के सचिव सीएस आशीष मोहन उपस्थित थे।
Copyright @ 2019.