राष्ट्रीय (26/10/2021) 
अग्रणी सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया कुशीनगर द्वारा आयोजित ऋण संबर्धन कार्यक्रम
कुशीनगर 26 अक्टूबर  ! उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान के प्रांगण में भारत सरकार के वित्तीय सेवाएं विभाग एवं राज्य स्तरीय बैंकर्स कमेटी के निर्देशन में अग्रणी जिला प्रबंधक सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया कुशीनगर द्वारा आयोजित ऋण संबर्धन कार्यक्रम का उदघाटन मुख्य अतिथि देवी दयाल वर्मा, अपर जिलाधिकारी कुशीनगर, एल० बी० झा, क्षेत्रीय प्रबंधक सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया क्षेत्रीय कार्यालय गोरखपुर,  पी० एस० भाटिया, मुख्य प्रबंधक (ऋण विभाग) क्षेत्रीय कार्यालय गोरखपुर, सुनील त्यागी, अग्रणी जिला प्रबंधक कुशीनगर, बैरिस्टर सिंह, वित्तीय सलाहकार कुशीनगर एवं आर० एन० यादव निदेशक, सेंट-आरसेटी द्वारा माँ सरस्वती जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण और दीप प्रज्ज्वलित करके किया गया|
ऋण संबर्धन कार्यक्रम के अंतर्गत 16-10-2021 से 31-10-2021 तक रु०-100 करोड़ के ऋण स्वीकृति एवं वितरित करने का लक्ष्य दिया गया है| जिसमे मंगलवार के कार्यक्रम के माध्यम से जनपद के सभी बैंको के द्वारा रु०38.42 करोड़ का ऋण स्वीकृति किया गया| जिसमे जनपद के 12 सरकारी क्षेत्र के बैंक, 5 निजी क्षेत्र के बैंक एवं बडौदा यू० पी० बैंक की शाखाओं ने भाग लिया|  इस कार्यक्रम के अंतर्गत सतर्कता जागरूकता अभियान, वित्तीय साक्षरता एवं सेंट- आरसेटी बाजार  का भी समावेश रहा! जिसमे सेंट आरसेटी के सभी स्टाफ उपस्थित रहे|
अपर जिलाधिकारी ने अपने संबोधन में लाभार्थियों को बैंको से ऋण प्राप्त करके अपनी आजीविका बढाने एवं आत्म निर्भर बनने तथा ऋण की समय से वापसी के बारे में प्रकाश डाला गया तथा लाभार्थियों को ऋण स्वीकृति पत्र भी प्रदान किया गया|
क्षेत्रीय प्रबंधक सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया क्षेत्रीय कार्यालय गोरखपुर द्वारा जनपद कुशीनगर के समग्र विकास हेतु स्वरोजगार स्थापित करने के लिए बैंको से ऋण प्राप्त करके अपने जीवन स्तर को बढ़ाने एवं ऋणों की समय से अदायगी तथा सेंट- आरसटी कुशीनगर से निः शुल्क प्रशिक्षण प्राप्त करके स्वरोजगार स्थपित करने के बारे में बृहद रूप से जानकारी दी गयी | सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया गोरखपुर क्षेत्र की सभी शाखाओं द्वारा कुल 233 लाभार्थियों को रु० 16.81 करोड़ का ऋण स्वीकृत किया गया|
अंत में निदेशक सेंट- आरसेटी द्वारा सभी लोगों का आभार व्यक्त करते हुए कार्यक्रम का समापन किया गया|

Copyright @ 2019.