राष्ट्रीय (13/11/2021) 
सपा के प्रति लोगों का उत्साह और समर्थन देखकर भाजपा को चढ़ा अहंकार का बुखार तो जरूर उतर जाएगा: अखिलेश यादव

कुशीनगर  13 नवंबर  ! उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि जनता ने बदलाव ठान लिया है। सपा के प्रति लोगों का उत्साह और समर्थन देखकर भाजपा को चढ़ा अहंकार का बुखार तो जरूर उतर जाएगा। यह समर्थन देखकर विश्वास हो गया है कि भाजपा सरकार का सफाया यहीं से हो जाएगा। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव शनिवार को गोरखपुर एयरपोर्ट पर पहुंचे। यहां से समाजवादी विजय रथयात्रा लेकर कुशीनगर के लिए निकले अखिलेश माड़ापार में जनता को सम्बोधित कर रहे थे। रास्ते में उन्होंने जगह-जगह स्वागत के दौरान रथ पर खड़े होकर लोगों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने हर वर्ग को निराश किया है।भाजपा झूठे वायदे कर सत्ता में आई। वायदा किया था कि पार्टी सत्ता में आई तो किसानों की आय दोगुनी कर देगी। किसानों की आय तो दोगुनी नहीं की लेकिन समस्याएं खड़ी कर दी। महंगाई की मार से तबाह किसान और कर्जदार हो गए। किसान इतने दिनों से आंदोलन कर रहे हैं लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं है। भाजपा ने कहा था कि उनकी सरकार आएगी तो हवाई चप्पलें पहनने वाले हवाई जहाज से यात्राएं करेंगे। गरीब किसान-नौजवान हवाई जहाज से तो यात्रा नहीं कर पा रहे हैं अलबत्ता इस सरकार ने पेट्रोल और डीजल की कीमतें इतनी बढ़ा दी कि अब वे मोटरसाइकिल से भी नहीं चल पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि धुआं उड़ाने वाले अब खुद धुएं के साथ उड़ जाएंगे।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि कोरोना काल में मजदूर और गरीब कहां-कहां से पैदल आए। जब लोगों को अस्पतालों में बेहतर सुविधाएं चाहिए थी तब यह सरकार उन्हें ऑक्सीजन तक नहीं दे पाई। उन्होंने जन समूह से सवाल किया कि यह सरकार आखिर लैपटाप क्यों नहीं दे पा रही है! जनता के बीच से जवाब आता इससे पहले ही उन्होंने कहा, क्योंकि बाबा लैपटाप चलाना नहीं जानते।

अखिलेश ने कहा कि भाजपा महंगाई को लेकर आंदोलन करती थी। अब भाजपा की सरकार है। बताइए! डालर के मुकाबले रुपया कहां है। उन्होंने कहा कि यह सरकार अर्थव्यवस्था बर्बाद कर रही है। डालर के मुकाबले रुपया काफी कमजोर हो गया है। अखिलेश ने कहा कि पहले यह फेंकू की सरकार थी लेकिन अब बेचू की भी सरकार हो गई है। यह सरकार सब कुछ बेच रही है। एयरपोर्ट बेच दिया। रेलवे बेच दिया, बिजली बेच दिया। यदि दुबारा सत्ता में आ गई तो सब कुछ बेच देगी।

 सपा नेता ने कहा कि एक तरफ आम आदमी महंगाई से तबाह है। लोग कर्जदार होते जा रहे हैं और दूसरी तरफ तेल कम्पनियों ने 600 गुना आय किया है। आखिर यह रकम कहां जा रही है। सरकार को इसे बताना चाहिए। अखिलेश ने कहा कि जो चुनाव होने जा रहा है वह लोकतंत्र को बचाने का है। बाबा साहब के संविधान को बचाने का चुनाव है। जिस सरकार ने इतने दिनों तक किसानों की आवाज नहीं सुनी, दुबारा सत्ता में आई तो आंदोलन करने पर ही रोक लगा देगी।

Copyright @ 2019.