अन्तरराष्ट्रीय (15/11/2021) 
नुपूर रिसाइक्लर्स ने एनएसई एमर्ज में आईपीओ के लिए मसौदा विवरणिका जमा किया

नई दिल्ली, 15 नवंबर 2021: भारत में मेटल स्क्रैप प्रोसेसिंग और रिसाइक्लिंग की अग्रणी कंपनी नुपूर रिसाइक्लर्स ने इनिशियल पब्लिक आॅफरिंग (आईपीओ) के जरिये फंड जुटाने के लिए लघु, मझोले उद्योग के प्लेटफॉर्म नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) एमर्ज के पास मसौदा विवरणिका जमा दिया है।


इसके इश्यू में 57,000 शेयर की नई आॅफरिंग होगी। कंपनी ने अपने पब्लिक इश्यू प्रबंधित करने के लिए कॉर्पोरेट कैपिटल वेंचर्स प्राइवेट लिमिटेड और आईसीआईसीआई बैंक जैसे निवेश बैंकों को नियुक्त किया है। इश्यू की यह प्रक्रिया कंपनी के आगामी विकास को गति देने में मदद करेगी।


नुपूर रिसाइक्लर्स ने वित्त वर्ष 2020—21 की पहली छमाही के मुकाबले वित्त वर्ष 2021—21 की पहली छमाही में लगभग 83 करोड़ के कुल राजस्व के साथ 169.82 फीसदी राजस्व वृद्धि की है। यह वृद्धि देशभर में खास तौर पर आॅटोमोटिव, पावर, होम फर्निशिंग और सड़क एवं परिवहन जैसे क्षेत्रों के जरिये रिसाकिल्ड मेटल की जबर्दस्त मांग से पूरी होती है।


यह मांग यूरोप और खाड़ी क्षेत्रों के विभिन्न देशों के फेरस और नॉन—फेरस मेटल स्क्रैप आपूर्तिकर्ताओं के साथ कंपनी की मजबूत भागीदारी के जरिये प्रभावी तौर पर पूरी होती है, जहां यह टुकड़े में किए गए जिंक स्क्रैप, जिंक डाई—कास्ट स्क्रैप, ज्यूरिक एसएस स्क्रैप और अल्युमीनियम जोरबा ग्रेड जैसे पदार्थों का आयात करती है। स्क्रैप मेटल रिसाइक्लिंग के लगातार बढ़ते बाजार में नुपूर रिसाइक्लर्स अपनी स्थापना के बाद से ही निरंतर विकास पथ पर है।



नुपूर रिसाइक्लर्स के बारे में


नुपूर रिसाइक्लर्स भारत में मेटल स्क्रैप प्रोसेसिंग और रिसाइक्लिंग की अग्रणी कंपनी है। राजेश गुप्ता और अनूप गर्ग द्वारा 2018—2019 में स्थापित नुपूर रिसाइक्लर्स फेरस और नॉन—फेरस स्क्रैप की अग्रणी आयातक और प्रोसेसर कंपनी है। कंपनी खंडित जिंक स्क्रैप, जिंक डाई—कास्ट स्क्रैप, ज्यूरिक एसएस स्क्रैप और अल्युमीनियम जोरबा ग्रेड जैसे पदार्थों के आयात के लिए यूरोप और अमेरिका में खंडित तथा फ्लोटेशन प्लांट से जुड़ी हुई है। कंपनी भविष्य में भरोसेमंद आपूर्तिकर्ताओं के साथ अपनी रणनीतिक भागीदारी के जरिये लिथियम—आयन बैटरियों की रिसाइक्लिंग के लिए प्रयास कर रही है।


संस्थापकों के नेतृत्व में कंपनी ने वर्ष 2020—21 में साल—दर—साल अच्छी—खासी वृद्धि की है और 105.98 करोड़ रुपये का राजस्व बनाया है तथा इस वित्त वर्ष में 50 फीसदी से अधिक की रिकॉर्ड वृद्धि की अपेक्षा करती है।

मेटल स्क्रैप की प्रोसेसिंग से उच्च क्वालिटी के पदार्थ बनाने की प्रक्रिया में कंपनी ने पर्यावरण को भी सुरक्षित रखा है। कंपनी का लक्ष्य अपने नवप्रवर्तक व्यापार पहल के लिए वैश्विक स्तर पर ख्याति अर्जित करना है जबकि प्रीमियम उत्पाद एवं सेवाएं देते हुए ग्राहकों को 100 फीसदी असली सेवाएं प्रदान करना है। कॉर्पोरेट सिटीजन होने के नाते कंपनी ने बड़े पैमाने पर समाज के विकास, खासकर गरीब और उपेक्षित वर्गों के कल्याण तथा स्थायी विकास के लिए सामाजिक परियोजनाएं शुरू करने की खातिर गाइडलाइंस तय की है। 


Copyright @ 2019.