विशेष (15/11/2021) 
सुप्रसिद्ध हिंदी कथाकार मन्नू भंडारी का निधन हिंदी साहित्य जगत की अपूरणीय क्षति: दयानंद वत्स
अखिल भारतीय स्वतंत्र पत्रकार एवं लेखक संघ के राष्ट्रीय महामंत्री दयानंद वत्स ने हिंदी की जानी मानी लेखिका मन्नु भंडारी के आकस्मिक निधन पर गहरा शोक जताते हुए इसे हिंदी साहित्य जगत
की अपूरणीय क्षति बताया है। वत्स ने कहा कि मन्नू भंडारी हिदी की सुप्रसिद्ध कथाकार के साथ साथ शिक्षाविद् भी थीं। दिल्ली के मिरांडा हाउस में उन्होने सालों तक अध्यापन कार्य किया। मन्नु भंडारी के उपन्यास यही सच पर  रजनीगंधा फिल्म बनी जो अत्यधिक सफल रही। आपका बंटी और महाभोज  से उन्हें अपार ख्याति मिली। उनकी कहानियों में स्त्री सशक्तिकरण केंद्र में रहा।

Copyright @ 2019.