विशेष (28/04/2022) 
लगातार लैंडफिलों में लगती आग के कारण दिल्ली की स्थिति भयावह।- चौ0 अनिल कुमार
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि, दिल्ली सरकार और भाजपा शासित दिल्ली नगर निगम की निगरानी होने के बावजूद, एक बार फिर भलस्वा लैंडफिल में भीषण आग सरकार की योजनाओं और नीतियों पर प्रश्न चिन्ह लगाता है। भलस्वा लैंडफिल में लगी भयानक आग से नजदीकी क्षेत्रों में भीष्ण गर्मी में प्रदूषण का स्तर खतरनाक से भी अधिक स्तर पर पहुच गया है और तापमान असहनीय हो गया है, जिसके कारण आसपास के गांव के लोगों को भारी परेशानी झेलनी पड़ी है, लोगों को सांस लेने में परेशानी हो रही है।


चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि, भाजपा शासित दिल्ली नगर निगम और केजरीवाल सरकार की लापरवाही के कारण औखला, गाजीपुर और भलस्वा लैंडफिलों पर लगातार आग लगने की घटनाऐं हो रही है, जो अरविन्द केजरीवाल के दिल्ली मॉडल के प्रदूषण नियंत्रण की पोल खोलता है। उन्होंने कहा कि राजधानी में वायु प्रदूषण पहले ही खतरे के स्तर से उपर रहता है फिर लैंडफिलों पर आग जहरीले धुंए के कारण लोगों का जीना दूभर हो रहा है।


चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि, भाजपा शासित दिल्ली नगर निगम और केजरीवाल सरकार की पर्यावरण विभाग द्वारा औखला लैंडफिलों का कूड़ा संशोधित करने पर करोड़ो रुपये खर्च किए है परंतु औखला, गाजीपुर, भलस्वा लैंडफिलों पर कूड़े के पहाड़ कम होते नही दिख रहे है। सच्चाई यह है कि भ्रष्टाचार के कारण काम सिर्फ दस्तावेजों में रहे है, वास्तविकता आग लगने पर उजागर हो जाती है क्योंकि इस साल तक आग लगने की 5 घटनाऐं हुई है जबकि पिछले साल इसी अवधि में आग लगने की 16 घटनाऐं हुई थी, जिनमें 12 भलस्वा लैंडफिल साईट और 4 गाजीपुर लैंडफिल में हुई थी।  उन्हांने कहा कि दिल्ली नगर निगम और मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल व उनके मानसिकता की संकुचित मानसिकता यह है कि जमीनी हकीकत से दूर कार्य को अंजाम देने की बजाय सिर्फ खोखली बयानबाजी करते हैं।

Copyright @ 2019.