10/02/2017    यूपी में थमा चुनाव प्रचार,कल होगा पहले चरण का मतदान
पाँच राज्यों के विधानसभा चुनाव में अब बारी उ०प्र० की है,उ०प्र० में मतदान सात चरणों में होना है जिनमें से पहले चरण का चुनाव पश्चिमी उत्तर प्रदेश में शनिवार की सुबह से शुरू होगा । गौरतलब है कि चुनाव प्रचार के आखिरी दिन चुनाव में हिस्सा ले रही सभी पार्टियों के कार्यकर्ताओं और स्टार प्रचारकों ने जमकर प्रचार प्रसार किया।भाजपा की ओर से केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने ,कांग्रेस से उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने और सपा से तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने चुनावी रैलियाँ की जिसके पश्चात मतदान से 48 घण्टे पहले गुरूवार शाम पाँच बजे चुनाव प्रचार रोक दिया गया।

 आपको बता दे कि पहले चरण के चुनाव में 73 विधानसभा सीटों पर चुनाव होने है जिसमें 1करोड़,60लाख मतदाता मतदान कर 839 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे, जिनमें 77 महिला उम्मीदवार है  जबकि मतदाताओं में 1करोड़,42लाख पुरूष मतदाता और 1करोड़,17लाख महिला मतदाता है।आगरा दक्षिण में सबसे अधिक  26 और हस्तीनापुर सीट पर सबसे कम 6 उम्मीदवार हैं।मतदान के लिए 26हजार,823पोलिंग बूथों का निर्माण किया गया है। लगभग सभी सीटों पर सभी प्रमुख पार्टियों के उम्मीदवार मैदान में है भाजपा 73 सीटों पर,बीएसपी भी 73 सीटों पर ,जबकि सपा और कांग्रेस के गठबंधन में सपा 51 और कांग्रेस ने 24  सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे है और आरएलडी ने 57 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए है 

 चुनाव आयोग ने मतदान के लिए भारी सुरक्षा इंतजाम किए हैं। संवेदनशील और भीड भरे स्थानों की खास निगरानी होगी। राज्य के अहम मुद्दों की बात करें किसानों की समस्याएं, कानून व्यवस्था, बेरोजगारी, महिला सुरक्षा और विमुद्रीरण चुनावों के अहम मसले हैं। ये इलाका गन्ना किसानों के साथ ही आलू के कारोबारियों और किसानों का इलाका है और उनके मुद्दे चुनाव में अहम रहेंगे।पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जाटों के अलावा अल्पसंख्यक समुदाय कई सीटों पर जीत हार में निर्णायक भूमिका अदा कर सकता। कुल मिलाकर पहले चरण में चुनाव के लिए तैयारियां पूरी हैं और अब सबकी नजरें मतदान पर हैं कि जनता क्या फैसला करती है। 


तेज बहादुर सिंह 
दिल्ली विश्वविद्यालय 
समाचार वार्ता

 



Click here for more interviews
Copyright @ 2017.