04/07/2017  हरियाणा के पुलिस महानिदेशक श्री बी एस संधु ने आज एक पुलिस अधिकारी व तीन पुलिस कर्मियों को उनकी सराहनीय सेवाओं के लिए अवार्ड प्रदान कर सम्मानित किया।
सम्मानित होने वाले व्यक्तियों में डीएसपी श्री कप्तान सिंह, सिटी जींद के एसएचओ श्री सज्जन सिंह, हैड कांस्टेबल श्री वजीर सिंह और सिपाही श्री कुलदीप सिंह शामिल हैं। इस पुरस्कार में पुलिस कर्मियों एक-एक प्रशस्ति पत्र व 5000 रुपये का नकद पुरस्कार प्रदान किया गया तथा जींद के दो स्थानीय व्यक्तियों नामत: राज कुमार और कृष्ण को भी पांच-पांच हजार रुपये देने की घोषणा की। 
घटना दो दिन पुरानी है। दो बच्चे जलघर के पास पेड़ पर खेल रहे थे। अचानक एक बच्चे का पैर फिसल कर वह टैंक में जा गिरा। इसकी सूचना पुलिस को दी गई तो डीएसपी कप्तान सिंह अपनी टीम सहित वहां पहुंचे। कृष्ण कुमार के 14 वर्षीय पुत्र धारू उर्फ कुक्कू की जान तो नहीं बच पाई लेकिन डीएसपी और उनकी टीम ने इस मौके पर मानवीयता और बहादुरी का परिचय दिया। मौके पर पहुंचे डीएसपी को जब यह पता लगा कि शहर में कोई गोतोखार नहीं है और वह करनाल से आएगा तो वे खुद ही कपड़े उतार कर पानी में उतर गए।
उनके साथ सिटी एसएचओ सज्जन सिंह व उनकी टीम के हैड कांस्टेबल व कांस्टेबल के अलावा दो स्थानीय नागरिक में जलघर में कूद पड़े। इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो भी रविवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। सीएम को जब इस घटनाक्रम का पता लगा तो उन्होंने तुरंत डीजीपी से बात की। डीजीपी ने डीएसपी कप्तान सिंह सहित उनकी टीम को चंडीगढ़ बुलाया। कप्तान सिंह के साथ चारों पुलिस जवानों ने डीजीपी संधू से मुलाकात की। इस दौरान डीजीपी ने डीएसपी व पुलिस के जवानों को इस बहादुरी के लिए वेलडन कहा।
सूजसविह-2017
 
चंडीगढ़, 3 जुलाई- हरियाणा के श्रम एवं रोजगार मंत्री श्री नायब सिंह सैनी ने बताया कि आगामी 17 सितंबर 2017 को सोनीपत में भगवान विश्वकर्मा जयंती बड़ी धूमधाम से मनाई जाएगी जिसमें हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल मुख्य अतिथि होंगे। इस समारोह में श्रमिकों के कल्याण के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाओं की घोषणा की जाएगी। समारोह में केंद्रीय श्रम मंत्री श्री बंगारू दत्तात्रेय भी शिरकत करेंगे।
उन्होंने आज यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि सरकारी स्तर पर आयोजित किए जाने वाले इस कार्यक्रम में श्रमिकों के अलावा छोटे दुकानदार से लेकर बड़े उद्योगपतियों तक को आमंत्रित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस अवसर पर विभिन्न खेलों में अव्वल स्थान प्राप्त करने वाले श्रमिकों को भी सम्मानित किया जाएगा।
श्री सैनी ने वर्तमान प्रदेश सरकार हर वर्ग की हितैषी है और सभी वर्गों का समान रूप से उत्थान करने के लिए प्रयासरत है। 
हरियाणा पिछड़ा वर्ग एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग कल्याण निगम के चेयरमैन श्री रामचंद्र जांगड़ा ने विश्वकर्मा को कला एवं तकनीक का देवता बताते हुए कहा कि राज्य सरकार ने भी पलवल जिला में भगवान विश्वकर्मा के नाम पर विश्वकर्मा स्कील डिवलेपमेंट यूनिवर्सिटी शुरू की है जिसमें करीब 300 प्रकार के कोर्स करवाए जाएंगे। यह यूनिवर्सिटी प्रदेश के युवाओं को तकनीक में पारंगत करने में मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने बताया कि इस यूनिवर्सिटी के जिला स्तर पर केंद्र शुरू किए जाएंगे ताकि अधिक से अधिक युवाओं को तकनीकी कोर्स करवाकर रोजगार के काबिल बनाया जा सके।
क्रमांक-2017

 
चंडीगढ़, 3 जुलाई- हरियाणा के श्रम एवं रोजगार मंत्री श्री नायब सिंह सैनी ने कहा कि आज कांग्रेस पार्टी के नेताओं के पास कोई मुद्दा नहीं है इसलिए वे किसानों के नाम पर राजनीति कर रहे हैं।
श्री सैनी आज यहां पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में अंदरूनी लड़ाई चल रही है और उनकी राजनीति समाप्त होने के कगार पर है,ऐसे में वे अपने आपको स्थापित करने के लिए किसान के नाम पर जनता को बरगला रहे हैं। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर निशाना साधते हुए कहा कि वे करीब 10 साल तक प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे और उस समय वे मुख्यमंत्रियों की कमेटी के अध्यक्ष भी बनाए गए थे तब उनको स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट याद नहीं आई। 
उन्होंने देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को किसान हितैषी बताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य रखा है जिसको पूरा करने के लिए वे प्रयासरत हैं। 
एक प्रश्र के उत्तर में श्रम एवं रोजगार मंत्री ने इनैलो द्वारा आगामी 10 सितंबर 2017 को एसवाईएल के मामले पर आहूत प्रदेशव्यापी बंद को राजनीति से प्रेरित बताया और कहा कि इनैलो प्रदेश के लोगों को एसवाईएल के मुद्दे पर गुमराह कर रही है। उन्होंने कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि सर्वाेच्च न्यायालय भी हरियाणा के पक्ष में अपना अंतिम निर्णय सुनाकर पंजाब को हरियाणा के हिस्से का पानी देने का आदेश देगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार इस मुद्दे पर आरंभ से पूरी तन्मयता से पैरवी कर रही है जिसके सकारात्मक परिणाम आ रहे हैं।
क्रमांक-2017


चंडीगढ़, 3 जुलाई- आगामी 5 जुलाई 2017 को यहां हरियाणा निवास में पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी आयोजन समिति की कार्यकारी समिति की बैठक  होगी जिसकी अध्यक्षता हरियाणा के शिक्षा एवं पर्यटन मंत्री श्री राम बिलास शर्मा करेंगे। बैठक में विभिन्न विभागों के 6 अतिरिक्त मुख्य सचिव, 4 प्रधान सचिवों के अलावा कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय, महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय रोहतक तथा चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार के उपकुलपति,हरियाणा कला परिषद, हरियाणा ग्रंथ अकादमी, हरियाणा साहित्य अकादमी के उपाध्यक्षों व निदेशकों के अलावा खेल एवं युवा कल्याण विभाग के निदेशक समेत सभी 22 सदस्यों को आमंत्रित किया गया है। 
क्रमांक-2017

 
चंडीगढ़, 3 जुलाई- हरियाणा आबकारी एवं कराधान विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल ने कहा कि जीएसटी के संबंध में लोगों की शकांओं और भ्रांतियों को दूर करने व इसकी विस्तृत जानकारी देने के लिए आगामी एक सप्ताह के भीतर प्रदेश के प्रत्येक जिला मुख्यालय पर एक-एक संगोष्ठी का आयोजन किया जाएगा। इस संगोष्ठी में मैन्यूफैक्चरिंग एसोसिएशन, ट्रेडर्स, चार्टर्ड अकाऊंटेंटस, सूचीबद्ध 34 सुविधा प्रदाता और क्षेत्र के चुने हुए प्रतिनिधियों को बुलाया जाएगा।
श्री संजीव कौशल ने आज जीएसटी पर आयोजित संगोष्ठी के उपरांत पत्रकारों से बातचीत करते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस बैठक  में जीएसटी पर विस्तृत चर्चा होगी ताकि किसी के मन में कोई संदेह न रहे।
उन्होंने कहा कि आबकारी एवं कराधान विभाग द्वारा इस तरह की संगोष्ठियों का आयोजन किया जा रहा है, ताकि लोगों को जीएसटी की जानकारी प्राप्त हो और उसका लाभ उठा सकें। इसके अतिरिक्त इन संगोष्ठियों के माध्यम से समाज को, देश को और हमारे प्रदेश को, मैन्यूफैक्र्चर व टैडर्स को जीएसटी के संबंध में व्यापक जानकारी मिल सके। उन्होंने बताया कि तीन दिन पहले भी ऐसी ही एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया था, जिसमें मंत्रीमंडल के सभी मंत्रिगण, मुख्यमंत्री, विभागों के प्रशासनिक सचिवों ने भाग लिया था। 
उन्होंने फर्टीलाइजर के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि फास्फोरस वाला फर्टीलाइजर, जिसमें फास्फोरस एसिड तथा दूसरे अलग-अलग एलिमेंटस भी शामिल होते हैं उन अलग-अलग एलिमेंटस पर अलग-अलग टैक्स लगता है। श्री कौशल ने बताया कि टैक्स रिसर्च यूनिट की रिपोर्ट के मुताबिक फर्टीलाइजर पर पहले सवा सात प्रतिशत से सवा नौ प्रतिशत टैक्स लगता था अब उसको कम करके पांच प्रतिशत किया गया है। उन्होंने कहा कि हम अपेक्षा करते है कि भविष्य में फर्टीलाइजर की कीमतें और तर्कसंगत होंगी।
कृषि, टै्रक्टर और फर्टिलाइजर के संबंध में पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि इस संबंध में कुछ तथ्यों की कमी है। उन्होंने बताया कि टै्रक्टर पार्ट्स जो केवल और केवल टै्रक्टर में इस्तेमाल होंगे, उन पर 18 प्रतिशत का टैक्स, और टै्रक्टर के कुछ ऐसे पार्ट्स भी होते हैं जो दूसरी मशीनरी में भी इस्तेमाल होते हैं उन पर यह दर 28 प्रतिशत जीएसटी काउंसिल ने निर्धारित किया है। उन्होंने बताया कि जो टैक्स का निर्धारण हुआ है जीएसटी में किसी वस्तु पर कोई नया टैक्स नहीं लगाया गया है। टैक्स निर्धारण करते समय सैट्रंल टैक्स, वैट टैक्स और इम्बेडिड टैक्स जो पहले लगता था, उनको जमा करके जो नजदीकी टैक्स बैंड में आया, उसे उसमें रखा गया है। मुख्यत: सभी वस्तुओं पर टैक्स की दर कम हुई है।
उन्होंने बताया कि जीएसटी काउंसिल की आगामी 19वीं समीक्षा बैठक 5 अगस्त को रखी गई है जिसमें काउंसिल द्वारा क्रियान्वयन पर समीक्षा कर अनेक फैसले लिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि अगर किसी चीज या वस्तु पर कोई विसंगति सामने आती है तो उस पर फैसला किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर कोई भी समस्या आती है तो उसके समाधान के लिए आबकारी एवं कराधान सदैव तत्पर है।
Copyright @ 2017.