10/12/2017  
CRPF कैंप में जवान ने 2 एसआई, 1 ASI और एक अधीक्षक को गोलियों से भूना, एक और जवान घायल
 

बीजापुर,10 दिसंबर ।छत्तीसगढ मे बस्तर संभाग के धुर नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले के बासागुड़ा में शनिवार की देर शाम सीआरपीएफ के एक जवान सनत कुमार ने अंधाधुंध फायरिंग कर अपने तीन वरिष्ठों और एक सिपाही को मौत के घाट उतार दिया। घटना की सूचना मिलते ही बीजापुर के कलेक्टर-एसपी घटनास्थल पर पहुंच गए।
बस्तर के डीआईजी सुंदरराज ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि गोली चलाने वाले जवान से पूछताछ की जा रही है। मृतकों में एसआई विक्की शर्मा, एसआई मेघ सिंह, एएसआई राजवीर सिंह और जवान शंकर राव शामिल हैं। इनके अलावा एक जवान गंभीर रूप से जख्मी हुआ। घायल जवान को एयरफोर्स का एमआई 17 हेलिकॉप्टर से रायपुर लाया गया है। बासागुड़ा में सीआरपीएफ की 168वीं बटालियन पिछले दस साल से कैंप कर रही है। सीआरपीएफ के नियम के अनुसार कोई भी बटालियन तीन साल से अधिक एक जगह पर नहीं रखना चाहिए। लेकिन, बस्तर में 40 हजार से अधिक जवान कई-कई साल से तैनात हैं। जवानों को छुट्टियां भी नहीं मिल रही हैं। इससे उनमें तनाव की स्थिति पैदा होती जा रही है।
सीआरपीएफ जवानों द्वारा बस्तर में गोली चलाकर आत्महत्या के मामले तो अक्सर आते रहते हैं, लेकिन, पहली बार आपसी गोलीबारी की खबर आई है। घटना के बाद रायपुर में सीआरपीएफ के आईजी ने आपात बैठक बुलाई है।

      Back
 
Copyright @ 2017.