राष्ट्रीय (02/05/2019) 
दिल्ली में आम आदमी पार्टी तीसरे नम्बर पर रहेगी। कोई बड़ी बात नहीं होगी कि कुछ सीटों पर एम.सी.डी. के चुनाव की तरह उसकी जमानत भी जब्त हो जाए-विजय गोयल

नई दिल्ली, 2 मई। भारतीय जनता पार्टी दिल्ली प्रदेश कार्यालय पर आज राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं दिल्ली व उत्तराखण्ड के प्रभारी  श्याम जाजू, केन्द्रीय मंत्री  विजय गोयल, पश्चिमी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र के प्रत्याशी  प्रवेश साहिब सिंह वर्मा ने आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसौदिया के बयान भाजपा पैसे देकर आम आदमी पार्टी के विधायक तोड़ रही है को लेकर संयुक्त प्रेस वार्ता की। इस प्रेस वार्ता में प्रदेश उपाध्यक्ष  राजीव बब्बर, प्रवक्ता  हरीश खुराना, सरदार तजेन्द्र पाल सिंह बग्गा, मीडिया प्रमुख  अशोक गोयल देवराहा उपस्थित थे।

 

आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसौदिया के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुये केन्द्रीय मंत्री  विजय गोयल ने कहा कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी तीसरे नम्बर पर रहेगी। कोई बड़ी बात नहीं होगी कि कुछ सीटों पर एम.सी.डी. के चुनाव की तरह उसकी जमानत भी जब्त हो जाए। अपनी हार की निराशा को देखते हुए आम आदमी पार्टी राजनीति छोड़कर प्रपंच कर रही है। पहले उनके मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल धर्म के नाम पर वोट मांगते हैं और कहते हैं कि कांग्रेस को हिन्दू वोट नहीं देगा और केवल मुस्लिमों में भ्रम है। फिर आम आदमी पार्टी झुग्गी-झोंपड़ियों में पर्चे बंटवाती है कि कोई आपको वोट के लिए पैसा देने आए तो उससे पैसा ले लेना, मना मत करना, पर वोट आम आदमी पार्टी को ही देना। आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार अमर्यादित भाषा बोलते हैं। प्रधानमंत्री और भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए अमर्यादित भाषा का प्रयोग करते हैं और उनकी उम्मीदवार आतिशी बिना नाम लिए गुंडा शब्द का इस्तेमाल करती है कि इन गुंडों को वापिस गुजरात भेज दो। अभी ताजा बयान मनीष सिसौदिया ने दिया है जिसमें उन्होंने कहा है कि हमारे 7 विधायकों को 10 करोड़ रूपया भाजपा दे रही है, यह आरोप बिल्कुल गलत है। इस बाबत उनके पास कोई सबूत है तो उन्हें तुरंत सार्वजनिक करना चाहिए आम आदमी पार्टी के नेता अनर्गल आरोप लगाकर भागने की राजनीति से बचें।

 

 विजय गोयल ने कहा कि 7 नहीं, उनके 14 विधायक हमारे सम्पर्क में हैं और इससे भी ज्यादा उनके विधायक पार्टी छोड़ सकते हैं, उनके विधायकों को वहां पर घुटन हो रही है। पूर्व में भी आम आदमी पार्टी के कई विधायक विद्रोह कर चुके हैं ताजा मामला अलका लांबा का है जिन्होंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज से तंग आकर कांग्रेस में शामिल होने की इच्छा जताई थी। 

 

 विजय गोयल ने कहा कि आम आदमी पार्टी में जिस तरह से केजरीवाल की तानाशाही चल रही है और जिस तरीके से उल्टी सीधी हरकतें पिछले 4 सालों में अरविन्द केजरीवाल ने की हैं और बहुत सारे नेताओं को अपमानित करके पार्टी से जो निकाला गया, उसके बाद कोई भला आदमी, आम आदमी पार्टी में नहीं रहना चाहता। मनीष सिसौदिया अपने ही विधायकों पर आरोप लगा रहे हैं मानो उनके विधायक बिकाऊ हैं और 10 करोड़ में बिक सकते हैं। अपने विधायकों का यह मूल्यांकन जो उन्होंने किया है, उस पर उन्हें शर्म आनी चाहिए। मुझसे आम आदमी पार्टी के विधायकों ने सम्पर्क किया है कि वे भारतीय जनता पार्टी में शामिल होना चाहते हैं।

 

Copyright @ 2019.